अजमेर में पुलिस का सर्च ऑपरेशन, ऐसे इलाके में पहुंची जहां घुसने की हिम्मत नहीं करती

अजमेर।अजमेर के एक बड़े इलाके में पुलिस ने शनिवार सुबह-सुबह से सर्च ऑपरेशन चलाया। अचानक इस सर्च ऑपरेशन के दौरान बड़ी संख्या में चोरी के वाहनों की बात सामने आई है। ऑपरेशन का पूरा खुलासा पुलिस बाद में करेगी। सूत्रों के अनुसार पुलिस को कोई महत्वपूर्ण सुराग मिला है, जिसके आधार पर ऐसे इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है, जहां आमतौर पर पुलिस घुसने की हिम्मत तक नहीं जुटा पाती।

आनंदपाल भी हो सकता है कारण…

– पुलिस के बड़े अफसरों को कोई महत्वपूर्ण सूचना मिली थी, इसके बाद यह सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया है।
– ऑपरेशन के पीछे गैंगस्टर आनंदपाल की तलाशी भी माना जा रहा है।
– हालांकि कुछ अन्य पुलिसकर्मियों का कहना है कि यह वह इलाका है जहां चोरी के वाहन गिरोह रहते हैं और ऐसे वाहनों का यहां जमावड़ा रहता है।
– ऐसे में कोई भी गैंग यहां से ऐसे चोरी के वाहन लेकर उनका उपयोग करते हैं।
– ऐसे में आनंदपाल या अन्य गैंग के गैंगस्टर्स के बारे में भी यहां से पुलिस काे कोई सुराग मिल सकता है।

6 बाइक, 4 चौपहिया वाहन और कटे हुए वाहन मिले ऑपरेशन में

– पुलिस जब मौके पर पहुंची तो अजमेर के नाकामदाह क्षेत्र व सांसी बस्ती में हड़कंप मच गया।
– पुलिस के करीब 200 जवानों के साथ एक साथ सुबह 6 बजे पहुंचने से यहां रह रहे लोग सकते में आ गए।
– पुलिस के धावे के बीच चोरों की गैंग यहां-वहां भागने लगी, लेकिन पुलिस ने सभी को कब्जे में कर लिया।
– यहां बड़ी संख्या में वाहन मिले हैं, लेकिन इनमें से कई वाहन कटे हुए भी मिले।
– मौके से पुलिस ने 6 बाइक और 4 चौपहिया वाहन भी बरामद किए।
– पुलिस ने सभी वाहनों के कागज लाने को कहा है। फिलहाल किसी भी वाहन के कागज उपलब्ध नहीं कराए जा सके हैं।

भरतपुर के चोरगढ़ी में भी किया था ऐसा ही ऑपरेशन

दैनिक भास्कर ने भरतपुर के मेवात क्षेत्र के चोरगढ़ी में स्टिंग ऑपरेशन कर यहां चोरी के वाहनों संबंधी मामले को उजागर किया था। इसके बाद तड़के से ही पुलिस के भारी जाब्ते ने आॅपरेशन शुरू किया था। इस दौरान हालांकि फायरिंग भी हुई, लेकिन पुलिस ने बड़ी संख्या में चोरी के वाहनों के साथ चाेरों को हिरासत में लिया था। संभव है, अजमेर के इस इलाके में ऐसा ही सर्च ऑपरेशन पुलिस ने शुरू किया हो।