आज 35 नर्सों को राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कार प्रदान करेंगे।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस के अवसर पर आज 35 नर्सों को राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कार प्रदान करेंगे। नर्सों की उल्लेखनीय सेवा को मान्यता देने के लिये 1973 में शुरू किए गए इस पुरस्कार से 2014 तक कुल 306 नर्सों को सम्‍मानित किया जा चुका है। आधुनिक नर्सिंग की जननी फ्लोरेंस नाइटिंगेल की याद में हर साल 12 मई को अंतर्राष्‍ट्रीय नर्स दिवस मनाया जाता है। ब्रिटि‍श परिवार ने 12 मई 1820 को जन्‍मी फ्लोरेंस नाइटिंगेल अपनी सेवा भावना के लिए याद की जाती हैं। प्राइमिया युद्ध के दौरान लालटेन लेकर घायल सैनिकों की प्राणप्रण से सेवा करने के कारण ही उन्‍हें लेडी बिथ द लैम्‍प कहा गया।उन्‍होंने 1860 में सेंट टॉमस अस्‍पताल और नर्सों के लिए नाइटेगल प्रशिक्षण स्‍कूल की स्‍थापना की थी। उनका निधन 13 अगस्‍त 1910 में लंदन में हुआ था।