आरोपी जकीउर रहमान लखवी को जमानत देने का फैसला वापस लेने को कहा

भारत ने पाकिस्‍तान से मुम्‍बई आतंकी हमले के आरोपी जकी-उर-रहमान लखवी को जमानत देने का फैसला वापस लेने को कहा है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कल नई दिल्‍ली में कहा कि आतंकवाद के प्रति अलग-अलग नजरिया नहीं हो सकता।

प्रवक्‍ता ने कहा कि लखवी को जमानत देने से जघन्‍य अपराधों को अंजाम देने वाले आतंकवादियों का हौसला बढ़ेगा। लखवी को जमानत देने से उन आतंकवादियों का हौसला बढ़ेगा जो इस तरह के घृणित अपराध को अंजाम देते हैं। हम पाकिस्‍तान सरकार से इस निर्णय को वापस लेने का आग्रह करते हैं। हाल के दिनों में पाकिस्तान में जो घटनाएं हुई हैं उसे देखते हुए पाकिस्तान को आतंकवादियों के साथ कोई समझौता नहीं करना चाहिए। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने लखवी को जमानत दिये जाने को बहुत दुर्भाग्‍यपूर्ण बताया है। उन्होंने कहा कि भारत ने लखवी के खिलाफ पाकिस्‍तान को सभी जरूरी सबूत दिए थे। उन्‍होंने आशा व्‍यक्‍त की कि पाकिस्‍तान उसकी जमानत के खिलाफ उच्‍च न्‍यायालय में अपील करेगा। किसी से भारत डरने वाला नहीं है। लेकिन मैं यह कहना चाहता हूं कि यदि वहां के वजीरे आजम ने कहा है कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ेंगे। जो ऐसे मोस्ट वांटेड कल्‍प्रीट्स हैं उन्हें भारत के हवाले किया जाना चाहिए। यह हमारी डिमांड पहले से रही है और आज भी हमारी यही डिमांड है।