इस साल 7.3% रहेगी भारत की विकास दर: फिच

नई दिल्ली. रेटिंग एजेंसी फिच ने कहा है कि इस वित्त वर्ष में भारत की अर्थव्यवस्था 7.3 फीसदी की दर से बढ़ेगी. अगले साल यह रफ्तार बढ़कर 7.5 फीसदी हो जाएगी.
फिच के मुताबिक, नोटबंदी के असर और जीएसटी से पैदा हुई परेशानियों के खत्म हो जाने के बाद भारत की अर्थव्यवस्था विकास की इस रफ्तार को हासिल कर लेगी.

फिच ने कहा है कि सरकार के बुनियादी सुधारों से जुड़े एजेंडा के लागू होने से कारोबारी माहौल धीरे-धीरे बेहतर बन रहा है. फिच एक्सपर्ट्स का कहना है कि भारतीय अर्थव्यवस्था वित्त वर्ष 2018 के 6.5 फीसदी विकास दर से वित्त वर्ष 2019 में 7.3 फीसदी और वित्त वर्ष 2020 में 7.5 फीसदी की विकास दर हासिल कर लेगी.

फिच ने एशिया पैसिफिक रीजन के दूसरी सावरेन क्रेडिट तिमाही अनुमान में ये बातें कही हैं. फिच के मुताबिक 2017 के अंतिम तिमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था ने सुधार दिखाते हुए 7.2 फीसदी की रफ्तार हासिल की है. फिच ने पिछले महीने ही भारत की रेटिंग को लगातार 12वें साल में अपरिवर्तित रखा था.