ई-रिक्‍शा चलाने का रास्‍ता साफ हो गया

राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने मोटर वाहन अधिनियम में संशोधन करने संबंधी अध्‍यादेश पर हस्‍ताक्षर कर दिए हैं। इससे राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र की सड़कों पर ई-रिक्‍शा चलाने का रास्‍ता साफ हो गया है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले महीने की 24 तारीख को इस अध्‍यादेश को मंजूरी दी थी, क्‍योंकि इस आशय का विधेयक संसद के शीतकालीन सत्र में पारित नहीं हो सका था। नए नियमों के अनुसार ई-रिक्‍शा चार सवारियों और 40 किलोग्राम सामान को ले जा सकेंगे। मोटर वाहन अधिनियम के तहत एक व्‍यक्ति को परिवहन वाहन चलाने का लर्निंग लाइसेंस तब तक नहीं दिया जाता जब तक कि उसके पास कम से कम एक वर्ष का ड्राइविंग लाइसेंस न हो। अधिकतर ई-रिक्‍शा चालकों के पास एक साल का लाइसेंस नहीं होता इसलिए मौजूदा प्रावधान के तहत उनके ई-रिक्‍शा या ई-कार्ट चलाने पर पाबंदी है।