उत्तर भारत में ठंड तेज हुई; ऊंचे पर्वतीय क्षेत्रों में पहला हिमपात

उत्तर भारत में ठंड बढ़ गई है। हिमाचल प्रदेश में शिमला और पर्यटन केंद्रों- मनाली, नारकंडा, कल्पा और सांगला पर इस मौसम का पहला हिमपात हुआ है। जबकि मध्यम और निचली पहाड़ियों में वर्षा

हुई जिससे लम्बे समय तक जारी खुश्क मौसम समाप्त हो गया। राज्य में ऊंचे जनजातीय इलाकों और अन्य ऊंची पहाड़ियों पर भी मध्यम बर्फबारी हुई। इससे अधिकतम तापमान में 8 से 12 डिग्री की गिरावट आई। रोहतांग दर्रे और सोलांग नाला के बीच बर्फ गिरने के कारण कुछ बसों समेत लगभग चार सौ वाहन फंसे हुए हैं। पंजाब और हरियाणा के कई भागों में इस मौसम की पहली बारिश हुई। उधर दिल्ली में बादल छाए रहने के कारण ठंड बनी रही और शहर के कुछ इलाकों में ठंडी हवाएं चलीं और बारिश हुई। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में न्यूनतम तापमान 3 दशमलव 1 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। उत्तराखंड में भी कड़ाके की ठंड पड़ रही है। उत्तराखंड के कुमाऊं और गढ़वाल के कुछ हिमालय क्षेत्रों में बर्फबारी और बारिश के कारण शीत लहर चल रही है। केदारनाथ और उससे लगे पर्वतीय क्षेत्रों में मौसम की पहली बर्फबारी भी हुई है। सीमांत जनपद, पिथौड़ागढ़, धारचुला, मुंशियारी और डीडीहार क्षेत्रों में तापमान गिर जाने के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ है। बारिश के कारण मसूरी, चकराता और देहरादून में ठंड बढ़ गई है। टिहरी, अलमोड़ा और बागेश्वर पर्वतीय ज़िलों के अनेक भागों में कड़ाके की ठंड पड़ने के समाचार मिले हैं।