..और जब गडकरी मंच से उतरने लगे तो झुक गए विधायक महोदय

tatpar, 8april13

इंदौर. बाबा साहेब डॉ. भीमराव आंबेडकर के जन्मोत्सव का महाकुंभ महू के जिस मैदान पर मनाया जाता है वहां इस बार भी धूमधाम से मनाया जाएगा। 

हालांकि इसकी केंद्र सरकार अनुमति नहीं दे रही है। हमने रक्षामंत्री से भी बात की है। आयोजन में किसी भी तरह की अड़चन नहीं आने देंगे। बौद्ध समाज आगे आए। युवाओं को रोजगार के लिए राज्य सरकार ने योजना बनाई है, आप आगे बढ़ें सरकार आपके साथ है।

यह बात मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने रविवार शाम गीता भवन चौराहे पर बाबा साहेब आंबेडकर प्रतिमा के अनावरण समारोह में कही। भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी, मुख्यमंत्री, उद्योग मंत्री कैलाश विजयवर्गीय और मंत्री महेंद्र हार्डिया ने प्रतिमा का अनावरण किया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा- दिल्ली में बाबा साहेब की परिनिर्वाण भूमि है। वहां भी स्मारक बनना चाहिए। हमने केंद्र सरकार को कहा है वहां आप काम कीजिए, नहीं तो हम करेंगे। भाजपा की सरकार उनके सम्मान को कम नहीं होने देगी। आज शिक्षा व रोजगार जरूरी है।

मुख्यमंत्री रोजगार गारंटी योजना का जिक्र करते हुए चौहान ने कहा- हमें आगे बढऩा है और अपना जीवन स्तर ऊपर उठाना है। मई अंत तक प्रदेश सरकार 53 हजार गांवों में 24 घंटे बिजली मुहैया करा देगी। कार्यक्रम में सभी विधायक, भाजपा पदाधिकारी व समाज के सैकड़ों भीम अनुयायी मौजूद थे।

गडकरी ने मार्टिन लूथर किंग से की आंबेडकर की तुलना- नितिन गडकरी ने बाबा साहेब की तुलना अर्थशास्त्री मार्टिन लूथर किंग से करते हुए कहा कि बाबा साहेब ने सामाजिक सद्भाव, सामाजिक न्याय के सिद्धांत को आगे बढ़ाया। भविष्य का विकास तभी होगा जब जात-पात, पंथ, भाषा से ऊपर उठकर हम काम करेंगे। बाबा साहब का जीवन हमें प्रेरणा देता रहेगा।

निगम नहीं कर सकता था, इसलिए विधायक ने किया

आदमकद प्रतिमा इतनी जल्दी लगने पर महापौर ने कहा कि निगम इतनी जल्दी नवीन प्रतिमा की प्रक्रिया पूरी नहीं कर सकता था। विधायक रमेश मेंदोला ने समाजजनों के साथ ग्वालियर के मूर्तिकार प्रभात राय से इसे बनवाया। मुख्यमंत्री ने भी अपने भाषण में इसका श्रेय मेंदोला को दिया। कार्यक्रम को मंत्री हार्डिया, भंते संघ शील व इंद्रेश गजभिये ने भी संबोधित किया। अतिथि स्वागत शंकर लालवानी, सूरज कैरो, राजेश वानखेड़े आदि ने किया।