कांग्रेस को ये भी नहीं पता कि किसे याद रखे, वो तो सुल्तानों की जयंती मनाने में लगी रहती है: मोदी

बेंगनुरु. कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को सबसे पहले चित्रदुर्ग में सभा की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेताओं को ये भी नहीं पता कि किसे याद रखना है और किसका उत्सव मनाना है। वे तो सुल्तानों की जयंती मनाने में लगे रहते हैं। मोदी कर्नाटक में आज रायचूर, जमखंडी और हुबली में भी सभाएं करेंगे। अमित शाह भी बेलगावी में दो रैलियां और दो रोड शो करने वाले हैं। प्रधानमंत्री ने शनिवार को भी चार रैलियां की थीं। इसमें उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा था कि उसने राज्य को लूटने के सिवाय कुछ नहीं किया। 15 तारीख को चुनाव के नतीजे आने के बाद यह पीपीपी, यानी पी से पंजाब, पी से पुड्डूचेरी और पी से परिवार पार्टी में बदल जाएगी। बता दें कि मोदी कर्नाटक में 21 सभाएं करेंगे। राज्य में 12 मई को वोट डाले जाएंगे। 15 मई को नतीजे आएंगे।

कर्नाटक से चंद्रयान की तैयारी शुरू होने पर देश को गर्व

– मोदी ने चित्रदुर्ग में कहा, “ये देश के लिए गर्व की बात है कि चंद्रयान की तैयारी इस जमीन पर हुई है।”
– “इस मिशन में लगे सभी वैज्ञानिकों और सभी टेक्निशियनों को मैं शुभकामनाएं देता हूं।”
– “चित्रदुर्गा की धरती पर लोककथाओं में यही दोहराया जाता है कि कैसे यहां के वीरों ने सुल्तानों से टक्कर दी थी।”

कांग्रेस ने कर्नाटक की जनता की भावनाओं से खिलवाड़ किया

– मोदी ने चित्रदुर्ग में कहा, “कांग्रेस ने कर्नाटक के लोगों का विशेष कर चित्रदुर्ग के लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया है। वोटों की राजनीति करने के लिए वीर मदकरी नायक के बजाए कांग्रेस ने सुल्तान की जयंती मनाई।”

सौदत्ती येल्लमा मंदिर भी जाएंगे शाह

– अमित शाह सबसे पहले बेलगावी के तालुक स्टेडियम में सभा करेंगे।
– इसके बाद वे सौदत्ती येल्लमा मंदिर में दर्शन करने जाएंगे।
– दोपहर में शाह बेलगावी दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र में वंदगांव से शिवाजी गार्डेन तक रोड शो करेंगे।
– शाम को बेलगावी उत्तरी विधानसभा क्षेत्र में भोगरसे से कावेरी कोल्ड ड्रिंक्स तक उनका दूसरा रोड शो होगा।
-बेलगावी के रामदुर्ग में शाम को उनकी दूसरी रैली होगी।

वो तो आलू से सोना पैदा करने के बारे में सोचते हैं

– मोदी ने शनिवार को सबसे पहले तुमकुर में सभा की। यहां उन्होंने राहुल गांधी का नाम लिए बगैर कहा, “अब कांग्रेस वालों ने ऊपर से नीचे तक, लोकल हो, देशी हो या विदेशी हो, इधर से हो या उधर से हो, समझ हो या न हो, चना का पेड़ होता है या पौधा होता है, लाल मिर्च होती है या हरी, इसका भी जिनको ज्ञान नहीं है। जो आलू से सोना पैदा करने के बारे में सोचते हैं। वो अब दिन-रात किसान-किसान बोल रहे हैं।”
– “इंदिरा गांधी के समय से लेकर कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए गरीबों को मूर्ख बना रही है। कांग्रेस एक झूठ बोलने वाली पार्टी है। वे एक बार फिर चुनाव जीतने के लिए झूठ का सहारा ले रहे हैं। न तो उन्हें किसानों की चिंता है और न ही गरीबों की। लोग अब कांग्रेस से थक चुके हैं।”
– “कर्नाटक के लोगों को कांग्रेस और जेडीएस के अनकहे गठबंधन को समझना चाहिए। वे लड़ते दिख तो रहे हैं लेकिन बेंगलुरु में जेडीएस, कांग्रेस के एक मेयर को समर्थन कर रही है।”

कांग्रेस के सी और करप्शन के सी में कोई अंतर नहीं रहा

– मोदी ने शिमोगा की रैली में कहा, “ये कांग्रेस ना हिसाब देना जानती है ना जवाब देना जानती है। ये बस झूठ बोलना जानती है। झूठ बोलने का कारोबार ही कांग्रेस का चरित्र बन गया है।
– “राज्य के एक मंत्री ने हलफनामे में बताया कि पांच साल में उनकी संपत्ति 800 करोड़ से अधिक हुई, यही कांग्रेस के विकास का माडल है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *