कुमारस्वामी ने अपने रोने पर दी सफाई, कहा- मैंने कांग्रेस का नाम नहीं लिया

बेंगलुरु। कुछ दिन पहले ही कर्नाटक के सीएम कुमारस्वामी ने गठबंधन सरकार चलाने का दर्द बयां किया था। इस दौरान वे जेडीएस के एक कार्यक्रम में रो पड़े थे। अब कुमारस्वामी ने कार्यक्रम में अपने आंसुओं को लेकर सफाई दी है। कुमारस्वामी ने कहा कि, मीडिया ने मेरे बयान को गलत ढ़ंग से पेश किया है। मैंने अपने भाषण में कांग्रेस या किसी कांग्रेसी नेता का नाम नहीं लिया था। बता दें कि, उन्होंने शनिवार को एक कार्यक्रम के दौरान भावुक होते हुए कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन पर कहा था कि आप सब खुश हैं कि आपका बड़ा या छोटा भाई मुख्यमंत्री बन गया है, लेकिन मैं खुश नहीं हूं। मैं विषकंठ की तरह जहर पी रहा हूं।

अब कुमारस्वामी ने अपने पिछले बयान से पलटते हुए कहा कि, मैंने कांग्रेस या किसी कांग्रेसी नेता का नाम नहीं लिया। मैंने अपने भाषण में कांग्रेस को लेकर कुछ नहीं कहा। यह पार्टी का कार्यक्रम था और मैं भावुक हो गया था। मीडिया ने मेरे बयान को गलत ढ़ंग से पेश किया।

बता दें कि, जेडीएस की तरफ से उनके मुख्यमंत्री बनने की खुशी में आयोजित किए गए कार्यक्रम में कुमारस्वामी ने गुलदस्ते को भी स्वीकार नहीं किया था। कुमारस्वामी ने कहा था कि कोई नहीं जानता कि कर्ज माफी के लिए अधिकारियों को मनाने के लिए मुझे कितनी मशक्कत करनी पड़ी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब वे अन्ना भाग्य स्कीम में 5 किलो चावल की जगह 7 किलो चाहते हैं। वे इसके लिए कहां से 2500 करोड़ रुपये लेकर आएं?

वहीं कुमारस्वामी के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा ने कुमारस्वामी शानदार अभिनेता करार दिया था। भाजपा ने आरोप लगाया था कि कुमारस्वामी आम आदमी को मूर्ख बना रहे हैं। पहले दोनों एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़े फिर आपस में मिलकर सरकार बना लिए