केजरीवाल के खिलाफ मेरे पास पुख्ता सबूत, CBI को बताऊंगा: कपिल

नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी से सस्पेंड हो चुके कपिल मिश्रा ने मंगलवार सुबह फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने अरविंद केजरीवाल को लिखा लेटर पढ़कर सुनाया। उन्होंने कहा कि उनके पास केजरीवाल के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं। इन्हें वे सीबीआई को देंगे। बता दें कि मिश्रा ने रविवार को दावा किया था कि केजरीवाल ने मंत्री सत्येंद्र जैन से 2 करोड़ रुपए कैश लिए, जिसे केजरीवाल के घर पर उन्होंने अपनी आंखों से देखा। दूसरा आरोप यह लगाया कि सीएम और उनके दो खास अफसरों ने शीला दीक्षित सरकार के खिलाफ वाटर टैंकर घोटाले की रिपोर्ट दबाई। आप ने आरोपों को झूठा और बेबुनियाद करार दिया। उधर, केजरीवाल ने विधानसभा का स्पेशल सेशन बुलाया है।
कपिल ने कहा- केजरी से ही युद्ध लड़ूंगा…
– कपिल मिश्रा ने कहा- “जिस गुरु से धनुष-बाण चलाना सीखा, अब उसी पर तीर चलाना है। जिस केजरीवाल से सीखा, आज उसी केजरीवाल से युद्ध लड़ने के लिए आशीर्वाद मांग रहा हूं। अरविंद जी, आपका दिल जानता है कि सत्येंद्र जैन से आपके कैसे रिश्ते हैं। अगर उस दिन सुबह मैंने एसीबी को लेटर नहीं दिया होता तो आप आनन-फानन में मुझे नहीं हटाते।”
– “मैं अकेला ही चक्रव्यूह तोड़ने निकला हूं। आज केजरीवाल विधानसभा में खुद को बेगुनाह साबित करने की कोशिश करेंगे। जज भी वे ही होंगे और मुजरिम भी वे ही होंगे। आपसे ही लड़ना सीखा है। इसलिए लड़ूंगा। या तो जीतूंगा या घेरकर मार दिया जाऊंगा।”
चुनाव लड़ने की चुनौती दी
– मिश्रा ने कहा, “मेरी विधानसभा सदस्यता खत्म करने के कोशिश की जा रही है, लेकिन इससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। मैं इस्तीफा देने को तैयार हूं। अगर उनमें थोड़ी भी नैतिकता बची हो तो करावल नगर या नई दिल्ली विधानसभा सीट में से कहीं से भी मेरे खिलाफ चुनाव लड़ लें।”
आपके खिलाफ एफआईआर कराऊंगा, इसके लिए माफी
कपिल ने कहा- “मैं अकेला हूं, अड़ा हूं, डटा हूं, आशीर्वाद दीजिए, आपके खिलाफ एफआईआर कराउंगा इसके लिए माफी। केजरीवाल को पता है कि मेरे पास बहुत कुछ है, बहुत से सबूत हैं, इसीलिए वे डरे हुए हैं। वे बार बार मुझसे सबूत देने की बात कर रहे हैं। मैं कुछ भी सामने नहीं रखूंगा। सिर्फ सीबीआई को बताऊंगा, ताकि जांच पर असर न पड़े।”
– “सत्येंद्र जैन के पास काफी पैसा है। वे कोर्ट जाकर केस दर्ज कर सकते हैं। वकील कर सकते हैं। मेरा पास पैसा नहीं है।”
– उन्होंने कहा कि सोमवार शाम से लेकर अब तक उन्हें आम आदमी पार्टी के नेताओं से जुड़ी करप्शन की 211 शिकायतें मिली हैं।
सीबीआई ऑफिस जाऊंगा
मिश्रा ने मंगलवार को ट्वीट कर बताया कि वे सीबीआई ऑफिस जाकर तीन एफआईआर करेंगे। पहली केजरीवाल और सत्येंद्र जैन के बीच 2 करोड़ की कैश डील पर होगी। दूसरी एफआईआर सत्येंद्र जैन के खिलाफ होगी। इसमें जिक्र होगा कि केजरीवाल के रिश्तेदारों ने कैसे फायदा उठाया। तीसरी एफआईआर सत्येंद्र जैन, आशीष खेतान, राघव चंद्रा, संजय सिंह और दुर्गेश पाठक के खिलाफ होगी। इन पर फॉरेन ट्रिप के लिए जनता के पैसा के गलत इस्तेमाल करने का आरोप होगा।
कपिल मिश्रा प्राइमरी मेंबरशिप से सस्पेंड
सोमवार शाम को सीएम केजरीवाल के घर पीएसी की मीटिंग हुई। इसमें उन्हें पार्टी की प्राइमरी मेंबरशिप से सस्पेंड कर दिया गया।
आप के तीन सवालों पर कपिल के जवाब
1) AAP का सवाल: कपिल कब और कितने बजे सीएम के घर गए थे?
कपिल का जवाब: ”कब और कितने बजे सीएम हाउस गया, ये बताने से जांच पर असर पड़ सकता है। इसलिए इसकी सारी डिटेल सीलबंद लिफाफे में सीबीआई को सौंप दूंगा।”
2) AAP का सवाल: केजरीवाल के किस रिश्तेदार के लिए सत्येंद्र जैन ने लैंड डील कराई, उसका नाम बताएं?
जवाब: ”जैन ने पर्सनली मुझे बताया कि केजरीवाल के साढ़ू के लिए छतरपुर में एक फार्म हाउस के लिए 50 करोड़ की लैंड डील कराई। पीडब्ल्यूडी में उनके 10 करोड़ के फर्जी बिल भी पास कराए। वो बंसल परिवार से आते हैं।”
3) AAP का सवाल: क्या बीजेपी के इशारे पर पार्टी और केजरीवाल को बदनाम कर रहे हैं?
जवाब: ”मैं बीजेपी में नहीं जाऊंगा। मेरा उनसे कोई रिश्ता नहीं। संजय सिंह को चुनौती देता हूं कि एक भी सबूत लेकर आएं कि मैंने किसी बीजेपी नेता से बात की हो। अगर कोई सवाल उठाए तो आप लोग उसे बीजेपी का एजेंट कह देते हो।”
विवाद कब और कहां से शुरू हुआ?
– शनिवार को कैबिनेट से निकाले जाने से पहले कपिल ने ट्वीट कर बता दिया था कि वो रविवार को भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ा खुलासा करने वाले हैं। लेकिन इसके पहले ट्वीट में सिर्फ वाटर टैंकर घोटाले का जिक्र किया था।
– रविवार सुबह कपिल एलजी अनिल बैजल से मिले। केजरीवाल सरकार में चल रहे भ्रष्टाचार के खिलाफ बयान दर्ज कराए। ट्वीट किया- “चुप रहना असंभव था। एलजी को सब बता दिया। मैंने उन्हें गलत तरीके से पैसे लेते देखा।”
सत्येंद्र जैन पर ये तीन आरोप पहले भी लग चुके हैं?
सत्येंद्र दिल्ली सरकार में हेल्थ मिनिस्टर रहे हैं।
1. हवाला कारोबारियों से रिश्तों का आरोप।
2. बेटी को स्वास्थ्य विभाग में पद दिलाने का आरोप।
3. मनी लाॅन्ड्रिंग का भी आरोप।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *