कोरोना से चौथी मौत, 22 मार्च से देश में लैंड नहीं करेगी कोई इंटरनेशनल फ्लाइट

भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. कोरोना वायरस के कारण देश में चौथी मौत के बाद हरकत में आई सरकार ने अब सरकार ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की लैंडिंग पर रोक लगा दी है. अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की लैंडिंग पर लगाई गई यह रोक 22 मार्च से प्रभावी होगी.

सरकार की ओर से लगाई गई रोक 22 मार्च से एक सप्ताह तक प्रभावी होगी. साथ ही 65 साल से अधिक उम्र के लोगों और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को घर में रहने का निर्देश दिया गया है. हालांकि मेडिकल स्टाफ और सरकारी कर्मचारियों को इससे छूट दी गई है.

राज्य सरकारों से कहा गया कि वो प्राइवेट कंपनियों पर वर्क फ्रॉम होम लागू करें, ताकि कर्मचारी ऑफिस न आएं और घर से ही काम करें. इसके अलावा रेलवे और विमानों में मिलने वाली छूट को खत्म कर दिया गया है, ताकि लोग कम से कम यात्रा करें और कोरोना के फैलने का खतरा कम रहे.

गौरतलब है कि सरकार ने एहतियातन विदेशी नागरिकों को दिए गए वीजा निरस्त कर दिए थे. 12 मार्च को जारी आदेश में 15 अप्रैल तक के लिए सभी विदेशी नागरिकों को जारी वीजा रद्द कर दिया गया था. हालांकि, इस आदेश से संयुक्त राष्ट्र के अधिकारी, डिप्लोमेट, रोजगार, प्रोजेक्ट वीजा पर सरकारी अधिकारियों को राहत दी गई थी. इसके चंद दिनों बाद ही सरकार ने एक अन्य फैसले में तुर्की, ब्रिटेन और यूरोपीय देशों से भारतीय पासपोर्ट धारकों के भी आने पर रोक लगा दी थी.

अब तक हुई चार की मौत

सरकार की ओर से उठाए गए तमाम एहतियाती कदमों के बावजूद पिछले कुछ दिनों में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़े हैं. देश में अब तक 178 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. इससे अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना वायरस के कारण चौथी मौत पंजाब में हुई है.

राष्ट्र को संबोधित करेंगे पीएम मोदी

कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए कई शहरों में धारा 144 लागू की जा चुकी है. वहीं, मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने अगले 10 दिन तक किसी भी तरह की परीक्षा कराने पर रोक लगा दिया है. इन सब परिस्थितियों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार की रात 8 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *