चंडीगढ़. प्रदेश की सीआईडी काे फिसड्‌डी बताने वाले गृह मंत्री अनिल विज ने सीआईडी चीफ एडीजीपी अनिल राव से स्पष्टीकरण मांगा है। दरअसल, गृह मंत्री अनिल विज ने सीआईडी चीफ अनिल राव को 11 दिसंबर को पत्र भेजकर कोई जानकारी मांगी थी। उनका 15 दिन तक जवाब नहीं आया तो 25 दिसंबर को रिमाइंडर भेजा गया।

इसके बावजूद कोई जानकारी मुहैया नहीं कराई गई। अब विज ने मंगलवार को गृह सचिव विजय वर्धन के जरिए राव से 3 दिन में जवाब मांगा है। उनसे पूछा गया है कि जो सूचनाएं मांगी गई हैं, वे क्यों नहीं दी जा रहीं। उल्लेखनीय है कि 1996 के बाद पहली बार मंत्री को गृह विभाग दिया गया है। सीआईडी विभाग सीएम अपने पास रखते रहे हैं। इस बार विज को गृह के साथ सीआईडी विभाग भी दिया हुआ है।

आईपीएस ट्रांसफर मामला: सीएम ने विज को फोन किया फिर दोनों की मुलाकात हुई 
9 सीनियर आईपीएस के ट्रांसफर के मामले में कंट्रोवर्सी खत्म नहीं हुई है। गृह मंत्री अनिल विज की ओर से ई-मेल के जरिए पत्र भेजने के बाद सीएम मनोहर लाल ने उनसे फोन पर बात की व मिलकर समाधान करने की बात कही।

सूत्रों का कहना है कि मंगलवार शाम सीएम के प्रिंसिपल सेक्रेटरी आरके खुल्लर के घर निजी कार्यक्रम में सीएम व गृह मंत्री साथ गए थे। दोनों की मुलाकात भी हुई, पर ट्रांसफर को लेकर क्या बात हुई, यह अभी सामने नहीं आया है। बताया जा रहा है कि विज पीछे हटने को तैयार नहीं हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *