चिन्मयानंद मामला: पीड़िता की गिरफ्तारी के विरोध में प्रियंका गांधी ने की पदयात्रा, जुटे सैकड़ों कार्यकर्ता

लखनऊ: कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के नेतृत्व में आज लखनऊ के शहीद स्मारक से जीपीओ गांधी प्रतिमा तक मौन यात्रा निकली. इस मौके पर सैकड़ों कार्यकर्ता जुटे. 150वीं गांधी जयंती के अवसर पर चिन्मयानंद मामले में पीड़िता की गिरफ्तारी के विरोध में ये पदयात्रा निकाली गई.

इससे पहले कांग्रेस नेता शाहजहांपुर से लखनऊ तक पैदल मार्च करने वाले थे लेकिन इसकी इजाजत नहीं मिली. कांग्रेस प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह ने कहा कि आज गांधी जयंती के मौके पर महात्मा गांधी के आदर्श पर चलते हुए ये यात्रा निकाली गई है. इन्हीं सिद्धान्तों के बूते महात्मा गांधी ने अंग्रेजो को देश से खदेड़ दिया था. ये सरकारें तो कुछ भी नहीं.

बता दें कि चिन्मयानंद मामले को लेकर प्रियंका गांधी बीजेपी पर हमलावर हैं. चिन्मयानंद फिलहाल न्यायिक हिरासत में है. उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (सी) के तहत मामला दर्ज किया गया है. हाल ही में प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा था, ”मात्र एक साल पहले शाहजहांपुर के कई प्रशासनिक अधिकारी चिन्मयानंद की आरती उतारते दिखे. मामला अखबारों में उछला था. बलात्कार पीड़िता द्वारा पूरी आपबीती कहने के बावजूद बलात्कार का मुकदमा दर्ज नहीं हुआ, कैसे होता? जब पूरा महकमा गले लगाकर उनका बचाव कर रहा था.”

क्या है पूरा मामला

गौरतलब है कि स्वामी शुकदेवानंद विधि महाविद्यालय में पढ़ने वाली एलएलएम की छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो वायरल कर स्वामी चिन्मयानंद पर शारीरिक शोषण का आरोप लगाया था. इसके साथ ही लड़की ने कहा था कि उसकी जान को भी खतरा है. पीड़िता के पिता की ओर से कोतवाली शाहजहांपुर में अपहरण और जान से मारने की धाराओं में चिन्मयानंद के खिलाफ मामला दर्ज कराया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *