जम्‍मू कश्‍मीर में झेलम का जलस्‍तर खतरे का निशान पार कर जाने से कश्‍मीर घाटी में बाढ़ की स्थिति।

जम्‍मू-कश्‍मीर सरकार ने लगातार बारिश से श्रीनगर में झेलम नदी का जलस्‍तर खतरे के निशान से ऊपर हो जाने के कारण कश्‍मीर घाटी में आज बाढ़ की स्‍थिति घोषित कर दी है। सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण विभाग के मुख्‍य अभियंता के अनुसार सुबह सात बजे झेलम नदी का जलस्‍तर राम मुंशी बाग और संगम में खतरे के निशान को पार कर गया। निचले इलाकों, विशेष तौर पर झेलम के आसपास रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर जाने की सलाह दी गई है।

भारी वर्षा और पानी भर आने से घाटी में आम जिंदगी अस्‍तव्‍यस्‍त होकर रह गई है। भारी वर्षा से बडगाम जिले के चादूरा इलाके में दो मकान जमीन के नीचे धस गए हैं और उसमें 16 लोग फंस गए हैं। सेना और पुलिस की बचाव टीमें वहां पहुंच गई हैं और फंसे हुए लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए कोशिश की जा रही है। सरकार ने बाढ़ की सूरत हाल को देखते हुए 12वें कक्षा तक सभी शिक्षा संस्‍थान दो दिन के लिए बंद किए हैं। कश्‍मीर विश्‍वविद्यालय और बोर्ड ऑफ स्‍कूल एजुकेशन ने आज और कल होने वाली परीक्षाएं रद्द कर दी हैं।