जेईई, नेट, नीट की परीक्षाएं कराएगी ये एजेंसी, जानें कब-कब होंगी परीक्षाएं

 केंद्र की मोदी सरकार ने देश की अहम परीक्षाओं में बड़े बदलाव कर दिए हैं। सरकार की तरफ से जारी किए गए निर्देशों के मुताबिक केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से करवाई जाने वाली कई परीक्षाएं अब नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) करवाएगी। इन परीक्षाओं में मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के लिए आवश्यक नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) और इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए करवाई जाने वाली जेईई और सीएमएटी भी शामिल है।

ये सभी परीक्षाएं अब तक सीबीएसई द्वारा कराए जाते थे। अब जेईई मेन्स और नीट की परीक्षा साल में दो बार कराई जाएगी। यह घोषणा नए शैक्षिक सत्र से लागू होगी। जावड़ेकर ने बताया कि नीट की परीक्षा हर साल फरवरी और मई में कराई जाएगी. साथ ही ये परीक्षाएं कम्प्यूटर के माध्यम से करवाई जाएगी।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में बात करते हुए जावड़ेकर ने बताया नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (नेट) दिसंबर में होगा, जेईई मेन्स के एग्जाम जनवरी और अप्रैल में होंगे और एनईईटी का आयोजन फरवरी और मई में होगा। उन्होंने बताया कि स्टूडेंट एनईईटी के लिए दो बार अपीयर हो सकते हैं और सबसे ज्यादा नंबर पाने वाले को ऐडमिशन के लिए चुना जाएगा। जेईई (मेन्स) के लिए भी कैंडिडेट्स दो बार अपीयर हो सकते हैं।

जानें मुख्य बातें…

-कोई छात्र अगर परीक्षा को किसी तारीख को भूल जाता है, तो उसे दूसरा चांस मिलेगा।

-ये ऑनलाइन नहीं, कंम्यूटर के माध्यम से परीक्षा होगी जिससे पारदर्शिता बढ़ेगी।

-पाठ्यक्रम, फीस, भाषाओं में बदलाव, प्रश्नों का रूप इसमें बदलाव नहीं किया जाएगा।

-नीट में 13 लाख छात्र होते हैं।

-जेईई में 12 लाख

-सीमैट में 1 लाख छात्र बैठते हैं।

-जिपैट में 40 हजार छात्र बैठते हैं।

-नेट की परीक्षा दिसंबर में होगी।

-जेईई मेन्स अब दो बार होगी, जनवरी और अप्रैल में।

-नीट की परीक्षा फरवरी और मई में दो बार होगी।

-कम्प्यूटर केंद्रों की घोषणा जल्द होगी। अपने नजदीकी केंद्रों में एक्जाम दे सकते हैं।

-कम्प्यूटर की प्रैक्टिस के लिए छात्रों को मुफ्त में सुविधा दी जाएगी।

-हर परीक्षा चार पांच दिन होगी जिनमें कोई भी तारीख छात्र चून सकते हैं।

-परीक्षा इंटरनेशनल स्तर के होंगे। सुरक्षा का ध्यान रखा जाएगा।

-मुफ्त में कम्प्यूटर की प्रैक्टिस की व्यवस्था।

-चार महीने ये सुविधा मिलेगी।

-कम्प्यूटर सेंटर जगह जगह खोले जाएंगे।

-लीक प्रूफ, मोर अकाउंटेबिलिटी, मोर सेफ एक्जाम को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है।

-जल्द ही एक्जाम की डेट घोषित होगी।