डेमोक्रेसी पर सुपर इमरजेंसी का खतरा, अपोजिशन एकजुट हो

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि बीजेपी की सरकार में देश पर अति आपातकाल (super emergency) का खतरा है। उन्होंने विपक्षी दलों से अगले लोकसभा चुनाव से पहले जनता के हित में मिलकर काम करने और साथ चलने की अपील की है।

पश्चिम बंगाल में डेवलपमेंट रोकने का आरोप
– बनर्जी ने केंद्र की एनडीए सरकार पर पश्चिम बंगाल में डेवलपमेंट के काम में रुकावट डालने का आरोप लगाया।
– उन्होंने शुक्रवार को यहां एक प्रोग्राम में कहा कि मैं करीब दो दशक तक सांसद रही हूं, लेकिन केंद्र में कभी ऐसी सरकार नहीं देखी।

कलेक्टिव लीडरशिप में यकीन

– ममता ने आगे कहा, “मैं सामूहिक नेतृत्व (collective leadership) में यकीन करती हूं। फिलहाल सभी एकजुट होकर काम कर रहे हैं और वही सबसे बढ़िया पॉलिसी है। हम मिलकर काम करें।”

– उन्होंने कहा कि उनके डीएमके, एसपी, बीएसपी और बीजेडी के साथ अच्छे संबंध हैं और वे अलग-अलग मुद्दों पर संसद में कांग्रेस के साथ मिलकर काम कर रही हैं।

राष्ट्रीय हित में विपक्ष का एकजुट होना जरूरी
– ममता से पूछा गया कि क्या वे 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के साथ बड़े पैमाने पर विपक्षी गठबंधन का इशारा कर रही हैं, तो उन्होंने कहा, “बंगाल में कांग्रेस और लेफ्ट, स्टेट लेवल पर बीजेपी के साथ मिलकर काम रहे हैं, लेकिन मैं समझती हूं कि राष्ट्रीय स्तर पर व्यापक हित में हमें मिलकर काम करना चाहिए।”

बंगाल में बांटो और राज करो नहीं चलेगा
– ममता ने कहा कि बंगाल बीजेपी की बांटो और राज करो की राजनीति कभी मंजूर नहीं करेगा।
– उन्होंने यह बात खारिज कर दी कि बीजेपी राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के लिए चुनौती है।
– ममता ने कहा, “बीजेपी बंगाल में कहीं नहीं है, वह सिर्फ मीडिया और सोशल मीडिया में है? वे बस चिल्लाते हैं। बीजेपी को बस अपनी बाइक वाहिनी के साथ चिल्लाने दीजिए, वे बंगाल में कुछ नहीं कर सकते।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *