तत्काल टिकट कैंसल कराने पर आधा पैसा लौटाएगी रेलवे, बुकिंग टाइम बदला

नई दिल्ली. रेलवे ने तत्काल टिकट बुकिंग सिस्टम में बदलाव करने का फैसला किया है। अब तत्काल टिकट कैंसिल कराने वालों को 50 फीसदी रिफंड मिलेगा। अभी तक तत्काल टिकट कैंसिल कराने पर कोई रिफंड नहीं मिलता था। रेलवे ने तत्‍काल बुकिंग के टाइम में भी बदलाव किया है। अब सुबह 10 से 11 बजे के बीच सिर्फ एसी कोच में सीटें बुक की जा सकेंगी। इसके बाद एक घंटा यानी सुबह 11 से 12 बजे के बीच नॉन एसी (स्लीपर) कोच में तत्काल टिकटों की बुकिंग होगी। नई व्यवस्था एक जुलाई से लागू होगी।
वेबसाइट और बुकिंग खिड़की, दोनों के लिए लागू होगा नियम
तत्काल कोटे के तहत टिकटों की बुकिंग पहले की तरह सुबह 10 बजे से ही खुलेगी। नई व्यवस्था में अंतर सिर्फ इतना है कि पहले एक घंटे सिर्फ एसी कोच के तत्काल टिकटों की बुकिंग होगी। नॉन एसी में बुकिंग कराने वाले 11-12 बजे के बीच तत्काल टिकट ले सकते हैं। रेलवे का यह नया नियम आरक्षण केंद्रों के साथ आईआरसीटीसी की वेबसाइट के लिए भी लागू होगा। तत्काल बुकिंग यात्रा की तारीख से एक दिन पहले होती है।
रेलवे चलाएगा तत्काल स्पेशल ट्रेन
रेलवे बोर्ड के सदस्य (यातायात) अजय शुक्ला ने बताया कि तत्काल कोटे के लिए टिकट लेने वालों की भीड़ को कम करने के लिए टाइमिंग में बदलाव किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि रेलवे जल्द ही तत्काल स्पेशल ट्रेन चलाने वाला है। इस ट्रेन में सफर करना यात्रियों के थोड़ा मंहगा पड़ेगा। देश के कई व्यस्त रूट पर ऐसी ट्रेन चलाने की योजना है। इस ट्रेन के लिए टिकट की बुकिंग 10 से 60 दिन के बीच की जा सकती है।
प्रीमियम और तत्काल स्पेशल ट्रेन में अंतर
प्रीमियम ट्रेनों के टिकटों का रेट डायनामिक फेयर सिस्टम के तहत बढ़ता-घटता है। जबकि तत्काल स्पेशल ट्रेनों के लिए ऐसा नहीं होगा। तत्काल स्पेशल के लिए एक यात्री को नार्मल रिजर्वेशन किराए से 175 से 400 रुपए ज्यादा चुकाने होंगे। प्रीमियम ट्रेनों में टिकटों की बुकिंग सिर्फ ऑनलाइन ही होती है। जबकि तत्काल स्पेशल ट्रेन की टिकट ऑनलाइन के साथ-साथ खिड़की से भी ली जा सकती है।