तुलसी हर मोर्चे पर आगे,कांग्रेस का किला लड़ा रहे गुड्डू

  • भाजपा की नगरीय क्षेत्र में बढ़त लेने की कोशिश,कांग्रेस का गांवों पर जोर

शैलेन्द्र सिंह पंवार, इन्दौर। कोरोना संक्रमण के बीच सांवेर विधानसभा उपचुनाव में भाजपा-कांग्रेस ने इन दिनों अपने को पुरी तरह से झोंक रखा है। मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रहे है। हर मोर्चे पर फिलहाल भाजपा प्रत्याशी तुलसी सिलावट आगे है, लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी प्रेमचन्द्र गुड्डू भी किसी मामले में कम नहीं है, वे अकेले ही पुरी भाजपा से किला लड़ा रहे है। संभावना है कि 26 सितम्बर के बाद कभी भी आचार संहिता लग सकती है। इसके बाद चुनावी घमासान और चरम पर होगा। भाजपा का ग्रामीण के साथ ही नगरीय क्षेत्रों पर बराबर फोकस है। भाजपा की रणनीति है कि ग्रामीण में अगर मुकाबला बराबरी का रहता है तब नगरीय क्षेत्र से बढ़त ली जाए। वार्ड 35 व 36 के साथ ही वार्ड 18 का कुछ हिस्सा सांवेर विधानसभा में शामिल है, यहां पर 50 हजार से अधिक मतदाता है, कई कालोनियां विकसित हो गई है, जिनमे नगर निगम ने अनेक मूलभूत सुविधाओं का प्रबंध किया है। जबकि कांग्रेस का पुरा जोर ग्रामीण मतदाताओं पर है, हालांकि नगरीय क्षेत्रों में भी जुटी हुई है, लेकिन कांग्रेस मानकर चल रही है कि यहां भाजपा का पलड़ा भारी हो सकता है। यहां का अधिकांश मतदाता भाजपा की मानसिकता का है। हालांकि कांग्रेस विकास के नाम पर भविष्य में होने वाली तोडफ़ोड़ के लिए यहां के एक वर्ग में भाजपा की गलत छवि बनाने में भी जुटी है।

■ भाजपा
विधानसभा क्षेत्र के गांव-गांव में लड्डू बांटे। पंचायत स्तर पर कलश यात्रा। घर-घर तुलसी पौधों का वितरण। 100 से अधिक गांवों में मतदाताओं से चौपाल पर चर्चा। भारत माता का पूजन। राम मंदिर शिलान्यास कार्यक्रम।
● प्रमुख चुनावी चेहरे
उपचुनाव प्रभारी रमेश मेन्दोला, सह प्रभारी मधु वर्मा, इकबाल सिंह गांधी, जिलाध्यक्ष राजेश सोनकर, नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे, सावन सोनकर, रवि रावलिया, सुदर्शन गुप्ता, आकाश विजयवर्गीय, मनोज पटेल, उमेश शर्मा, कमल बाघेला आदि। परोक्ष तौर पर संभागीय संगठन मंत्री जयपाल सिंह चावड़ा कर रहे चुनाव मानिटर।
● प्रमुख उपलब्धियां
2400 करोड़ की नर्मदा जल योजना की स्वीकृति। निकाय क्षेत्रों में 160 करोड़ के कामों की सौगात। लोक निर्माण विभाग, पीएचई, सिंचाई, पीएमजीएसवाय, बिजली कंपनी सहित दर्जनभर विभागों के 300 करोड़ से अधिक के काम स्वीकृत व प्रगति पर।
● आरोप
भाजपा, कमलनाथ सरकार पर कर्ज माफी के नाम पर किसानों के साथ धोखाधड़ी करने की बात कह रही। विधायकों सहित जनप्रतिनिधियों की सुनवाई नहीं होने को भी प्रचारित किया जा रहा।
● बूथ स्तर की रणनीति
गांव-गांव व बूथ स्तर पर भाजपा का मजबूत संगठन है, शहरी के कई चुनिंदा नेताओं को प्रमुख जिम्मेदारी सौंप रखी है। हर आयु वर्ग व हर क्षेत्र के मतदाताओं से बूथ स्तर पर संवाद किया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी प्रचारित किया जा रहा है।

■ कांग्रेस
गांव-गांव में हर-हर महादेव अभियान। प्रेमचन्द्र गुड्डू का एक दौर का जनसंपर्क पुरा। गुड्डू की इन्दौर-उज्जैन की निजि टीम भी मैदान में। कमलनाथ की आमसभा से चुनावी माहौल बनाया।
● प्रमुख चुनावी चेहरे
विधायक जीतू पटवारी, संजय शुक्ला, विशाल पटेल, जिलाध्यक्ष सदाशिव यादव, नगर अध्यक्ष विनय बाकलीवाल, सत्यनारायण पटेल आदि। परोक्ष रूप से पुर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ व सज्जन सिंह वर्मा की कमान।
● प्रमुख उपलब्धियां
किसानों की कर्ज माफी। शुध्द के लिए युध्द अभियान। ग्रामीण व नगरीय क्षेत्र के कई विकास कार्यों के लिए कांग्रेस को श्रेय। गुड्डू के विधायकी कार्यकाल में हुए विकास कार्य।
● आरोप
कांग्रेस, कमलनाथ सरकार को गिराने के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया व तुलसी सिलावट को गद्दार बता रही। भाजपा पर खरीद फरोख्त के आरोपों को भी प्रचारित कर रही है।
● जातिगत स्तर पर फोकस
कांग्रेस में भले ही संगठन जैसा कुछ नहीं है, पर ऊपरी तौर पर सभी नेता एकजुट है। गुड्डू का भी पहले की तुलना में दूसरे गुट के नेताओं से संवाद बेहतर है। जातिगत स्तर पर प्रमुख कांग्रेस नेताओं को जिम्मेदारी दी गई है, दिग्विजय सिंह से परहेज कर कमलनाथ को प्रचारित किया जा रहा है।
■ एक नजर में सांवेर विधानसभा
सांवेर विधानसभा में बलाई, राजपूत, खाती, अहिरवार, धाकड़ व मुस्लिम मतदाताओं का प्रभाव है। 2.64 लाख से अधिक मतदाता है। 103 ग्राम पंचायतें व 250 गांव है। नगर निगम के 2 वार्डों के साथ ही सांवेर नगर परिषद निकाय क्षेत्र में शामिल है।
◆ क्या कहते है जिम्मेदार
“सांवेर में भाजपा की अब तक की सबसे बढ़ी विजय होगी, गांव गांव में शिवराज सरकार ने विकास किया है, योजनाओं का लाभ दिलाया है। जबकि कांग्रेस ने कर्ज माफी व बेरोजगारी भत्ते के नाम पर हर वर्ग के लोगों को छला है। भाजपा की ताकत संगठन और उसका कार्यकर्ता है, सभी पुरे प्रण प्राण से जुटे है।”
@ राजेश सोनकर, भाजपा जिलाध्यक्ष इन्दौर
“सांवेर में नए सिरे से संगठन को खड़ा किया गया है। ब्लाक से लेकर बूथ स्तर की रणनीति बनाई गई है। जिसकी प्रमुख नेताओं को जिम्मेदारी दी गई है, सभी पुरी ईमानदारी से कांग्रेस को विजयी बनाने में जुटे है। ग्रामीणों में भाजपा सरकार को लेकर आक्रोश है, वे कमलनाथ सरकार को गिराने वालों को सबक सिखाने के मूड में है।”
@ सदाशिव यादव, कांग्रेस जिलाध्यक्ष इन्दौर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *