तेलंगाना में चुनाव प्रचार खत्म, सात दिसंबर को वोटिंग

इसी बीच सभी पार्टियां अपनी-अपनी जीत के दावे कर रही हैं. सात दिसंबर को सभी प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में कैद हो जाएगी. कांग्रेस ‘पीपल्स एलायंस’ की अगुवाई कर रही है. एलायंस को ‘प्रजाकुटमी’ नाम भी दिया गया है. इसमें तेलुगु देशम पार्टी (TDP), तेलंगाना जन समिति और भाकपा शामिल हैं.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने भी जमकर प्रचार किया. वे कई मौकों पर राहुल के साथ मंच साझा करते दिखे. हालांकि, उन्होंने सोनिया गांधी के साथ मंच साझा करने से इनकार कर दिया था. बता दें कि नायडू TDP के मुखिया हैं.

बीजेपी ने भी चुनाव प्रचार के दौरान पूरी ताकत का इस्तेमाल किया. प्रदेश में पार्टी के लिए प्रचार करने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत केंद्रीय मंत्री नकवी, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री फडणवीस, उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ जैसे कई शीर्ष नेता पहुंचे.

इससे पहले मंगलवार को कांग्रेस के विधायक और तेलंगाना इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष रेवंत रेड्डी को हिरासत में लिए जाने को लेकर भी काफी राजनीतिक बयानबाजी देखी गई.

हालांकि, इस मामले में चुनाव आयोग ने कार्रवाई करने वाली पुलिस अधीक्षक टी अन्नपूर्णा को चुनाव प्रक्रिया से बाहर कर दिया है. अब सभी दलों की नजरें मतदाताओं पर टिकी हुई हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *