दिग्विजय बोले, ‘मैंने हिन्दू आतंकवाद नहीं संघी आतंकवाद की बात कही’

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा है कि मैंने हिंदू आतंकवाद नहीं, बल्कि संघी आंतकवाद की बात कही है. उन्होंने कहा कि मैंने कई मामले उठाए जिसमें सजा भी हुई है. हिन्दू शब्द का जिक्र वेदों और पुराणों में भी नहीं है.

पूरे प्रदेश में एकता यात्रा पर निकले दिग्विजय सिंह ने सागर में कहा कि लोग मुझ पर आरोप लगाते हैं कि मैं मुस्लिम परस्त हूं और हिन्दू विरोधी हूं. मैं पूछना चाहता हूं कि एक भाजपा नेता ऐसा बता दे जिसने नर्मदा, ओंकारेश्वर और गोवर्धन परिक्रमा की हो या एकादशी का व्रत रखा हो. उन्होंने कहा कि मैंने जितनी धार्मिक यात्राएं की और हिन्दू धर्म पालन किया उतना BJP के एक भी नेता ने नहीं की है.

मध्य प्रदेश में कांग्रेस की समन्वय समिति के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह इन दिनों एमपी में कांग्रेसजनो के बीच एकता यात्रा पर निकले हैं. इस दौरान वे कांग्रेस कार्यकर्ताओं से चर्चा भी कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा धर्म की राजनीति करती है. धर्म के नाम पर पैसा बटोरना और नफरत फैलाना ही BJP का काम है.

गौरतलब है दिग्विजय सिंह इससे पहले भी कई मौकों पर आतंकवाद पर संघ पर हमला बोलते रहे हैं. और कई नेताओं द्वारा उनके बयान की आलोचना होती रही है.