दिल्ली पहुंचे रामफोसा, 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह में होंगे मुख्य अतिथि

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि हमें उम्मीद है कि उनकी इस यात्रा के दौरान हम अपनी रणनीतिक साझेदारी को आगे बढ़ाने के लिए एक रोड मैप पर सहमत होंगे. रक्षा और सुरक्षा क्षेत्रों के लिए दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सहयोग होगा.

उन्होंने कहा कि दक्षिण अफ्रीकी रक्षा उद्योग हमारे ‘मेक इन इंडिया’ पहल में नए सिरे से दिलचस्पी ले रहा है. भारत और दक्षिण अफ्रीका की हिंद महासागर क्षेत्र की समुद्री सुरक्षा में गहरी रुचि है. उन्होंने कहा कि आतंकवाद, एफएटीएफ, साइबर सुरक्षा जैसे क्षेत्रों में हमारी साझा चिंताएं हैं.

उन्होंने कहा कि रामफोसा के साथ उनकी पत्नी, नौ वरिष्ठ मंत्री, वरिष्ठ अधिकारी और 50 सदस्यों का व्यावसायिक प्रतिनिधिमंडल भी होगा.

दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति का 25 जनवरी को राष्ट्रपति भवन में रस्मी स्वागत किया जाएगा. इसके बाद वह राजघाट में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि देंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैदराबाद हाउस में रामाफोसा और उनके प्रतिनिधिमंडल के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता करेंगे. उनकी चर्चा में द्विपक्षीय और क्षेत्रीय महत्व के क्षेत्रों और आपसी हित के वैश्विक मुद्दों के शामिल होने की उम्मीद है.

प्रधानमंत्री उनके सम्मान में हैदराबाद हाउस में दोपहर का भोज देंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *