दिल्ली पुलिस और RSS मुख्यालय थे आतंकियों के निशाने पर, सीरियल बम धमाकों की थी साजिश : NIA

एनआईए ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और उत्तर प्रदेश पुलिस की टास्क फोर्स के साथ मिलकर बुधवार सुबह एक साथ कई जगहों पर छापे मारे। छापे की इस कार्रवाई में करीब 150 अधिकारी शामिल थे। छापे की कार्रवाई में एनआईए के हाथ जो लगा है वह चौंकाने वाला है। एनआईए को जानकारी मिली है कि आतंकवादी आगामी गणतंत्र दिवस (26 जनवरी 2019) के मौके पर दिल्ली पुलिस मुख्यालय और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के हेडक्वार्टर पर हमले की तैयारी कर रहे थे।

सूत्रों के मुताबिक आतंकवादी दिल्ली पुलिस मुख्यालय और आरएसएस हेडक्वार्टर की रेकी भी कर चुके थे। एनआईए ने दिल्ली के जाफराबाद से 4 लोगों को हिरासत में लिया है। 1 संदिग्ध को अमरोहा से हिरासत में लिया गया है। जाफराबाद से ग्रेनेड लॉन्चर, 7 पिस्टल और तलवार भी बरामद की गई हैं। यही नहीं अमरोहा से भी विस्फोटक और एक पिस्टल बरामद की गई है। इन सबके अलावा ISIS का बैनर भी बरामद हुआ है।

दिल्ली से हिरासत में लिए गए संदिग्धों का नाम आजम, अनीस, जाहिद और जुबेर मलिक है। अमरोहा से गिरफ्तार किए गए संदिग्ध का नाम हाफिज सुहैल बताया जा रहा है। हाफिज एक मदरसे में टीचर भी है। यह भी कहा जा रहा है कि हाफिज सुहैल ही इस सबका मास्टर माइंड है और वह भी दिल्ली के जाफराबाद का ही रहने वाला है। माना जा रहा है कि सभी हरकत-उल हर्ब ए इस्लामसंगठन से जुड़े हुए हैं और सेल्फ रेडक्लिराइज़्ड हैं।

पता चला है कि अनीस ने करीब 2 महीने पहले अपने ही घर से 5 लाख का सोना चुराया लिया था, लेकिन घरवालों ने रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई। बताया जा रहा है कि इसी पैसे से हथियार खरीदे गए हैं।

इससे पहले आतंकी गतिविधियों के शक में एनआईए, दिल्ली पुलिस, यूपी पुलिस और अन्य सुरक्षा एजेंसियों ने बुधवार सुबह से ही 16 जगहों पर छापेमारी की कार्रवाई शुरू कर दी।

यूपी एटीएस ने इस बात की तस्दीक की है कि अमरोहा में एनआईए के साथ मिलकर एक ज्वाइंट ऑपरेशन चलाया गया है। इस ऑपरेशन के दौरान पांच लोगों कों गिरफ्तार भी किया गया है।

संदिग्ध गतिविधियों के शक में मस्जिद के इमाम को ले गईं सुरक्षा एजेंसियां

  •  सिंभावली थाना क्षेत्र के गांव बक्सर स्थित मस्जिद में इमाम है शाकिब
  • शाकिब ने जिला अमरोहा में ग्रहण की थी मुफ्ती की शिक्षा
  • थाना क्षेत्र के गांव वैट में परिवार के साथ रहता है 26 वर्षीय शाकिब
  • एक साल पहले सऊदी जाने की बात कहकर बनवाया था पोसपोर्ट
  • बुलंदशहर स्थित एक मदरसे में पढ़ाता है शाकिब का पिता इफ्तेकार

मेरठ में भी हुई छापेमारी
मेरठ जिले में किठौर के राधना में भी एनआईए ने बुधवार सुबह छापेमारी की। यहां से भी एनआईए ने एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है। किठौर के ही ललियाना से चार संदिग्धों को भी एनआईए उठा ले गई है। इन सभी को अमरोहा में पकड़े गए आईएसआईएस के स्लीपर मॉड्यूल का साथी बताया जा रहा है।

समाचार एजेंसी एएनआई ने NIA का एक बयान जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि ISIS के मॉड्यूल ‘हरकत उल हर्ब ए इस्लाम’ से जुड़े मामलों को लेकर उत्तर प्रदेश और दिल्ली में 16 जगहों पर छापेमारी की जा रही है।

इससे पहले बुधवार सुबह खबर आयी कि अमरोहा जिले के नोगावा सादात के गांव सैदपुर इम्मा निवासी तीन सगे भाइयों के आतंकी संगठन से जुड़ा होने के शक में हिरासत में लिया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल व एटीएस ने उन्हें घर में नजरबंद कर लिया है तथा पूछताछ जारी है। जिले में अलर्ट जारी कर दिया गया है।

मामला नोगावा सादात के गांव सैदपुर इम्मा से जुड़ा है। यहां पर शहीद अहमद का परिवार रहता है। वह नगर कोतवाली क्षेत्र में धनोरा अड्डे पर वेल्डिंग की दुकान करता है। पास के ही मुहल्ला इस्लाम नगर में भी उसका मकान है। बुधवार सुबह दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल व एटीएस की टीम एसपी डॉ विपिन टाडा से मिली तथा सैदपुर इम्मा में शहीद अहमद के घर छापा मारने के लिए स्थानीय पुलिस का सहयोग लिया।

20-25 गाड़ियां पहुंची गांव में हड़कम्प मचा
सबसे पहले टीम ने नगर कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला शाही चबूतरा, जामा मस्जिद व इस्लाम नगर में छापा मारा। बताया जा रहा है कि यहां से टीम किसी को साथ नहीं ले गई। उसके बाद गांव सैदपुर इम्मा में शहीद के घर छापा मार दिया। लगभग 20-25 गाड़ियां गांव पहुंची तो हड़कम्प मच गया। फ़ौरन ही शहीद के घर की घेराबंदी कर ली गई तथा उसके परिजनों को घर मे बंद कर लिया। आसपास के घरों पर भी पहरा बैठा दिया गया।

शहीद के तीन बेटों अनीस, इदरीस व नफीस को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है। बताया जा रहा है कि तीन माह पहले डीएनएस कॉलेज के छात्रों द्वारा आतंकी जमशेद को पिस्टल बेचने वाले मामले के बाद से इन तीनों भाइयों पर टीम की नज़र थी। तीनों भाई वैल्डिंग का काम करने के साथ ही गांव में मजदूरी भी करते हैं। साथ ही जाकिर मूसा से भी इस मामले को जोड़कर देखा जा रहा है।

जिले में अलर्ट घोषित किया गया
अभी स्थानीय पुलिस कुछ भी बताने से इनकार कर रही है। परिजनों से पूछताछ जारी है। एएसपी बृजेश सिंह ने बताया कि नगर क्षेत्र व सैदपुर इम्मा में छापेमारी हुई है। बताया कि जिले में अलर्ट घोषित कर दिया गया है।

दिल्ली पुलिस के साथ एनआईए, हरियाणा व पंजाब पुलिस के साथ ही एटीएस की टीम ने यह छापेमारी की। आतंकी जाकिर मूसा के अमरोहा में छिपे होने के अपडेट के बाद यह कार्रवाई चल रही है। सैदपुर के शहीद के घर के अलावा अमरोहा नगर के मुहल्ला पचडरा में सिराज लस्सी वालों के घर पर भी छापेमारी चल रही है।

पिस्टल, गोला-बारूद बरामद
एटीएस व दिल्ली पुलिस ने मुहल्ला मुल्लाना जामा मस्जिद निवासी मुफ्ती सुहैल को हिरासत में लिया है। उनकी निशानदेही पर घर से टाइमर, पिस्टल, गोला बारूद बरामद किए जाने की चर्चा। मुहल्ला पचडरा से सिराज लस्सी वाले के भतीजे इरशाद को भी हिरासत में लिया। शहर में पुलिस का पहरा बढ़ाया गया।