दोषियों को फांसी से दुष्कर्म की बाढ़ रूकेगी : स्वराज

Tatpar 10 Sep 2013

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की वरिष्ठ नेता और लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज ने कहा है कि दिल्ली दुष्कर्म के आरोपियों को फांसी की सजा दी जाना चाहिए, ऎसा होने पर यह फैसला देश के लिए मॉडल (नजीर) फैसला बनेगा और दुष्कर्मों की आई बाढ़ पर रोक लगेगी।

भाजपा की प्रादेशिक विशेष बैठक में हिस्सा लेने भोपाल आईं स्वराज ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा कि न्यायालय ने दिल्ली दुष्कर्म के चारों आरोपियों को दोषी ठहराया है, सजा बुधवार को सुनाई जानी है, लिहाजा न्यायालय को चाहिए कि आरोपियों को फांसी की सजा दे, क्योंकि नए कानून के मुताबिक दुष्कर्म के साथ हत्या करने पर फांसी की सजा का प्रावधान है।

उन्होंने आगे कहा कि न्यायालय द्वारा आरोपियों को फांसी की सजा दिए जाने से दुष्कर्म की घटनाओं पर अंकुश लगाने में मदद मिलेगी। नया कानून बनने के बाद फांसी की सजा दिए जाने का यह पहला मामला भी होगा। संवाददाताओं ने जब मध्य प्रदेश में दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं पर सवाल पूछा तो सुषमा ने कोई जवाब नहीं दिया।