दो भाइयों के लव और हेट की कहानी है ‘ब्रदर्स’

डायरेक्टर करण मल्होत्रा की फिल्म ब्रदर्स आज रिलीज हो गई है। यह फिल्म 2011 में रिलीज़ हुई हॉलीवुड फिल्म ‘वॉरियर’ की रीमेक है। फिल्म में दो भाइयों डेविड फर्नांडीज (अक्षय कुमार) और मोंटी फर्नांडीज (सिद्धार्थ मल्होत्रा) की कहानी है, जो MMA(मिक्स्ड मार्शल आर्ट) फाइटर्स रहते हैं।
डेविड और मोंटी बचपन में बिछड़ जाते हैं, लेकिन सालों बाद उनकी मुलाकात फाइट रिंग में होती है। फिल्म में अक्षय फिजिक्स टीचर हैं, जो अपनी बेटी के ऑपरेशन के लिए एमएमए फाइट में हिस्सा लेते हैं, जिसका विनिंग प्राइस 9 करोड़ रुपए होता है। वहीं, मोंटी यानि सिद्धार्थ मल्होत्रा एक स्ट्रीट फाइटर है, जिसका फाइटिंग वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो जाता है। खुद को दुनिया के सामने साबित करने के लिए वह फाइट करता है, लेकिन उसको जैकपॉट राउंड में भाई डेविड से लड़ना पड़ता है। जैकी श्रॉफ फिल्म में डेविड और मोंटी के पिता का रोल निभा रहे हैं। फिल्म में जैकी की एंट्री जेल से होती है, जो अपनी पत्नी के खून के इल्जाम में सजा काट कर वापस लौटते हैं।

परफॉरमेंस

फिल्म में सिद्धार्थ मल्होत्रा मुंबई के एक कैथोलिक लड़के के रोल में नजर आ रहे हैं। सिद्धार्थ का फिजीक और बीयर्ड लुक उनको एक ट्रू फाइटर की तरह रिप्रेजेंट कर रहा है। अक्षय का रोल फिल्म में बैलेंस्ड है। पार्ट टाइम फिजिक्स टीचर होने के साथ-साथ वे 6 साल की लड़की के पिता का रोल निभा रहे हैं, फिल्म में उनकी बेटी किडनी डिसऑर्डर से पीड़ित है, जिसके इलाज के लिए अक्षय MMA फाइट खेल कर पैसे जुटाते हैं।
सिद्धार्थ, जैकी और अक्षय के बीच लव-हेट इक्वेशन आउटस्टैंडिंग है। जैकलिन फर्नांडीज का फिल्म में छोटा सा रोल है। मां के रोल में शायद आप उन्हें पसंद नहीं करेंगे। फिल्म में आशुतोष राणा के डायलॉग आपको एंटरटेन करेंगे, वहीं कुलभूषण खरबंदा का कॉमिक रोल आपको पसंद आएगा। कुलभूषण फिल्म में स्कूल के प्रिंसिपल का रोल निभा रहे हैं।

डायरेक्शन

करण मल्होत्रा ने फिल्म के फर्स्ट हाफ में ड्रामा और फाइट दोनों को बराबर जगह दी है। वहीं, सेकंड हाफ पूरी तरह एमएमए के लिए डोमिनेट है। जहां तक ड्रामा की बात है तो करण की इस फिल्म के कई सीन आपको भावुक कर देंगे। जैसे कि मां के निधन के बाद डेविड का अपने पिता गैरी फर्नांडीज को धक्का मारना। रिंग में डेविड और मोंटी की फाइट में भी आपको रियलिटी जैसा फील होगा। हालांकि, कुछ इमोशल सीन ऐसे भी हैं, जो बोर करते हैं और ऑडियंस को रुलाने की जगह हंसा देते हैं।

म्यूजिक

फिल्म का म्यूजिक अपनी जगह ठीक है। सोनू निगम की आवाज में ‘सपना जहां’ में अक्षय की शादी और बेटी के पैदा होने तक को दिखा देता है। वहीं, दोनों भाइयों की बचपन की यादों को ताजा कराता श्रेया घोषाल की आवाज में ‘गाए जा’ ऑडियंस को इमोशनल कर देता है। करीना पर फिल्माए गए सॉन्ग ‘मैरी’ फिल्म में नहीं होता तो भी चलता। इसकी वजह से कहीं न कहीं फिल्म की गति प्रभावित होती है।

देखें या नहीं

यदि आप अक्षय कुमार और सिद्धार्थ मल्होत्रा के फैन हैं, तो यह फिल्म देख सकते हैं। इसके अलावा मिक्स्ड मार्शल आर्ट को पसंद करने वालों के लिए भी फिल्म पसंद आएगी।