वसुंधरा राजे ने ललित मोदी के साथ मिल कर हड़पा धौलपुर महल: कांग्रेस

नई दिल्ली. आईपीएल के पूर्व कमिश्नर और करप्शन के आरोपी ललित मोदी की मदद कर विवादों में आईं राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर कांग्रेस ने बड़ा आरोप लगाया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में वसुंधरा और उनके परिवार पर सरकारी महल पर कब्जा जमाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, ”सरकारी संपत्ति होने के बावजूद धौलपुर का महल वसुंधरा, उनके बेटे दुष्यंत और ललित मोदी ने हड़प लिया।”
रमेश ने कहा- 2010 तक धौलपुर महल था सरकारी संपत्ति
रमेश ने कहा कि 2010 तक सरकारी संपत्ति रहे धौलपुर के महल को 2013 में अपने हलफनामे में वसुंधरा ने इसे निजी संपत्ति के रूप में दिखाया। उन्होंने कहा, ”नियंत कंपनी (वसुंधरा के परिवार की कंपनी) और आनंदा हेरिटेज कंपनी (ललित मोदी की कंपनी) ने मिलकर इस महल को निजी बना लिया और इसमें 100 करोड़ का निवेश किया। इस होटल में वसुंधरा के नाम पर 3280 शेयर, 2025 शेयर दुष्यंत, 3225 शेयर निहारिका (वसुंधरा की बहू) और ललित मोदी के 515 शेयर हैं।” उन्होंने कहा कि 1954, 1955, 1977,1980, 2010 पिछले 60 सालों में लगभग छह बार इन दस्तावेजों में दर्ज है कि धौलपुर का महल सरकारी संपत्ति है। 1980 में वसुंधरा राजे के पति ने भी कोर्ट में बयान दिया था कि धौलपुर का महल सरकारी संपत्ति है। लेकिन राजस्थान सरकार ललित मोदी के साथ इस संपत्ति का निजी इस्तेमाल करके लाभ कमा रही है।
मोदी को कहा ‘मौनेंद्र’, कहा- अब तो तोड़ें चुप्पी
कांग्रेस ने वसुंधरा के बहाने पीएम नरेंद्र मोदी को फिर घेरने की कोशिश की है। पार्टी का कहना है कि प्रधानमंत्री को अब तो चुप्पी तोड़नी चाहिए। रमेश ने अपने बयान में प्रधानमंत्री को मौनेंद्र की संज्ञा देते हुए कहा, “वे अब मौन तोड़ें और वसुंधरा को पद से हटाएं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *