नरेंद्र मोदी को हिंदू कट्टरपंथी संगठनों से भी जान का खतरा: इंटेलिजेंस रिपोर्ट

नई दिल्ली. प्राइम मिनिस्टर नरेंद्र मोदी को हिंदू कट्टरपंथी संगठनों से भी खतरा है। दिल्ली पुलिस की एक इंटेलिजेंस रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया गया है। पिछले महीने 21 जून को इंटरनेशनल योगा डे पर पीएम के लिए स्पेशल सिक्युरिटी अरेजमेंट्स किए गए थे। एक अंग्रेजी वेबसाइट की खबर ने इस रिपोर्ट को पब्लिश किया है।
क्या है मामला
वेबसाइट के अनुसार इंटरनेशनल योगा डे के पहले राजपथ पर पीएम की सिक्युरिटी को लेकर दिल्ली पुलिस की इंटेलिजेंस यूनिट ने एक रिपोर्ट तैयार की है। इसमें लश्कर-ए-तैयबा, इंडियन मुजाहिदीन और हिजबुल मुजाहिदीन से पीएम को खतरा बताया गया था। लेकिन चौंकाने वाली बात यह है कि इसमें पीएम की सुरक्षा को दक्षिणपंथी संगठनों से भी खतरा बताया गया है।
मोदी से क्यों नाराज हैं हिंदू संगठन
रिपोर्ट के मुताबिक, दक्षिणपंथी संगठनों को लगता है कि पीएम मोदी मुसलमानों को अट्रैक्ट करने की ज्यादा कोशिश कर रहे हैं, जबकि गुजरात दंगों के मामले में कई हिंदू नेताओं को सजा सुनाई जा चुकी है। ये संगठन इसी बात से नाराज हैं। रिपोर्ट में साफ तौर पर कहा गया है, “पीएम को कश्मीरी आतंकवादियों, इंडियन मुजाहिदीन और कट्टरपंथी इस्लामिक संगठनों से खतरा है। ये भी पता चला है कि गुजरात दंगों में हिंदू नेताओं को सुनाई गई सजा को लेकर दक्षिणपंथी संगठन पीएम से नाराज हैं।”
राजपथ पर थी कड़ी सुरक्षा
रिपोर्ट के अनुसार, पीएम को 40 संगठनों से खतरा है। इनमें आतंकी संगठनों के साथ ही, नक्सली, नॉर्थ-ईस्ट के घुसपैठिए और अंडरवर्ल्ड शामिल हैं। योगा डे के मौके पर हवाई हमले की आशंका जताई गई थी। इससे निपटने के लिए दिल्ली पुलिस ने पतंग, गुब्बारे और ग्लाइडर उड़ाने पर भी बैन लगा दिया था। सभी बड़ी इमारतों पर स्नाइपर्स तैयार किए गए थे। इसके अलावा, पूरे राजपथ की निगरानी के लिए ड्रोन कैमरों का यूज भी किया गया था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *