नेपाल: अब तक करीब पांच सौ लोगों को सिमिकोट से सुरक्षित निकाला गया

नेपाल में कैलाश मानसरोवर की यात्रा के दौरान भारी वर्षा केकारण रास्‍ते में फंसे 336 तीर्थयात्रियों को सिमिकोट से सुरक्षित निकाल लिया गया

नेपाल में कैलाश मानसरोवर यात्रा में फंसे श्रद्धालुओं को सुरक्षित निकाले जाने का काम आज दूसरे दिन भी जारी है। आज सुबह पांच व्यावसायिक उड़ानों के जरिए 73 श्रद्धालुओं को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया और 23 अन्य को नेपाल आर्मी के हेलीकॉप्टर की मदद से बचाया गया। अब तक सिमिकोट से 96 श्रद्धालुओं को बचाया जा चुका है। 10 व्यावसायिक उड़ानों के माध्यम से 158 श्रद्धालुओं को कल सिमीकोट से सुरक्षित निकाला गया था। 250 श्रद्धालुओं को भी हिलसा से हेलीकॉप्टर द्वारा सिमीकोट लाया गया। अब भी लगभग 1400 श्रद्धालु सिमीकोट, हिलसा और तिब्बत में फंसे हुए है। मंगलवार को तिब्बत की तरफ से हिलसा की ओर श्रद्धालुओं का पहुंचना काफी कम रहा और केवल 51 श्रद्धालु ही हिलसा पहुंचे। भारतीय दूतावास ने टूर ऑपरेटरो से कहा है कि वे श्रद्धालुओं को तिब्बत में ही रोक कर रखे क्योंकि वहां नागरिक सुविधाएं बेहतर हैं। सिमीकोट में मिशन के प्रतिनिधि किसी प्रकार की आपात चिकित्सा का पता लगाने के काम में लगे हुए है। हालांकि अभी तक कोई बड़ी चिकित्सा संबंधी परेशानी की खबर नहीं मिली है। इस बीच भारतीय दूतावास के चार सदस्यों का एक दल सिमीकोट और हिलसा जाते हुए नेपालगंज पहुंचा। यह दल फंसे श्रद्धालुओं को सहायता उपलब्ध कराने के लिए शिविर कार्यालय स्थापित करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *