पांच साल में कुछ नहीं कर सकते, ‘अच्छे दिन’ आने में लगेंगे 25 साल: अमित शाह

भोपाल: पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा चुनाव से पहले ‘अच्छे दिन’ लाने के वादे को बीजेपी 25 साल में पूरा करेगी। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को कहा कि अच्छे दिन आने में 25 साल लगेंगे। शाह ने यह भी कहा कि इंडिया को नंबर वन पोजिशन पर पहुंचाने के लिए बीजेपी को इन 25 साल में पंचायत से लेकर लोकसभा तक, हर चुनाव जीतना होगा। शाह ने कहा, ”देश को दुनिया के सर्वोच्च स्थान पर बैठाना है तो पांच साल की सरकार कुछ नहीं कर सकती।”
शाह यहां बीजेपी के महा जनसंपर्क अभियान की शुरुआत कर रहे थे। इस मौके पर शाह ने कहा कि अच्छे दिनों का मतलब भारत को दुनिया में वैसा ही सम्मान दिलाना है, जैसा कि अंग्रेजों के शासन से पहले था। शाह के मुताबिक, पहले पांच साल के शासन में बीजेपी सरकार महंगाई कम कर सकती है, सीमाओं को सुरक्षित कर सकती है, मजबूत विदेश नीति बना सकती है, देश की आर्थिक तरक्की सुनिश्चित कर सकती है, नौकरियां दिला सकती है और गरीबी हटा सकती है।
हमारी चमड़ी मोटी हो गई है: शाह
शाह ने अपने मंत्री, सांसद और विधायकों को जमकर खरी-खोटी सुनाई। उन्होंने साफ कर दिया कि लगातार चुनाव जीतकर राजनेताओं की चमड़ी मोटी हो गई है। मैं यहां उसमें संवेदनाएं भरने आया हूं। संगठन के आचार-विचार और कामों में उनकी दिलचस्पी कम हो गई है। उन्होंने कहा कि यह विचारधारा है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष आए हैं, भाषण देकर चले जाएंगे। लेकिन मैं चिपकू अध्यक्ष हूं। मेरे 6-7 लोग ऐसे हैं जो पीछे पड़े रहेंगे। शाह ने कार्यकर्ताओं के बीच पनप रही सत्ता और संगठन के प्रति नाराजगी पर नसीहत भी दी। उन्होंने कहा कि हमेशा यह भाव होना चाहिए कि हमारी सरकार अच्छी, सामने वाले की खराब। अपना बच्चा मंदबुद्धि या कमजोर हो तो उसे निकाला नहीं जाता।