पाकिस्तान के एफ-16 विमानों ने स्पाइसजेट के विमान को घेरा, कैप्टन से सवाल पूछे

नई दिल्ली. स्पाइसजेट के एक विमान को पाकिस्तान के एफ-16 विमानों ने 23 सितंबर को घेर लिया था। गुरुवार को सामने आई रिपोर्ट के मुताबिक, दो पाकिस्तानी एफ-16 विमान के पायलटों ने स्पाइसजेट के पायलट से उड़ान के दौरान ही पूछताछ की। उन्होंने पायलट से फ्लाइट की जानकारी मांगी और एल्टीट्यूड कम करने के निर्देश भी दिए।

न्यूज एजेंसी के अनुसार, स्पाइसजेट के विमान एसजी-21 ने दिल्ली से काबुल के लिए उड़ान भरी थी। इसमें करीब 120 यात्री सवार थे। इस दौरान पाकिस्तानी एयरस्पेस भी भारत के लिए खुला था। पायलट के मुताबिक, कैप्टन ने पाकिस्तानी एफ-16 के पायलटों को बताया कि यह स्पाइसजेट है। भारतीय कमर्शियल एयरक्राफ्ट, जिसमें यात्री सवार हैं। शेड्यूल के मुताबिक, यह काबुल जा रहा है। फ्लाइट में सवार एक यात्री ने नाम न बताने की शर्त पर बताया कि पाकिस्तानी लड़ाकू विमान के पायलटों ने स्पाइसजेट के पायलट को निर्देश दिया था कि कमर्शियल प्लेन का एल्टीट्यूड नीचे करें।

हर फ्लाइट का कोड होता है 

सूत्रों के मुताबिक, हर फ्लाइट का अपना कोड होता है। स्पाइसजेट को ‘एसजी’ के रूप में जाना जाता है। इसी कारण गफलत हो गई। पाकिस्तानी एटीसी ने स्पाइसजेट को गलती से ‘आईए’ समझा और इसका अर्थ ‘इंडियन आर्मी’ या ‘इंडियन एयरफोर्स’ निकाल लिया। इसी आधार पर पाकिस्तानी एटीसी ने रिपोर्ट दी कि भारत से एक एयरक्राफ्ट आ रहा है, जिसका कोड ‘आईए’ है। इसके बाद पाकिस्तान ने तुरंत एफ-16 लॉन्च कर दिए ताकि भारतीय विमान का पता लगाया जा सके।

डीजीसीए अधिकारियों ने पुष्टि की

डीजीसीए अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की है कि गफलत दूर होने के बाद भी पाकिस्तानी फाइटर प्लेन ने स्पाइसजेट को तब तक एस्कॉर्ट किया, जब तक विमान ने पाकिस्तानी एयरस्पेस को पार करके अफगानिस्तान की सीमा में प्रवेश नहीं कर लिया। 

वापसी के दौरान फ्लाइट पांच घंटे लेट हुई
एक यात्री ने बताया कि जब पाकिस्तानी एफ-16 विमान स्पाइसजेट की फ्लाइट के ईर्द-गिर्द मंडरा रहे थे तो सभी यात्रियों से खिड़की के परदे गिराने और शांत रहने के लिए कहा गया था। काबुल में सुरक्षित लैंड करने के बाद वापसी में फ्लाइट करीब पांच घंटे लेट हुई। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *