पाकिस्तान पर इशारों में मोदी का निशाना, कहा- अच्छे-बुरे आतंक की बहस में उलझे

ब्रसेल्स. पीएम नरेंद्र मोदी ब्रसेल्स एक्सपो में इंडियन कम्युनिटी को एड्रेस करने के बाद वॉशिंगटन डीसी रवाना हो गए। उन्हें सुनने के लिए ब्रसेल्स में करीब 5 हजार भारतीय मौजूद थे। इससे पहले उन्होंने 13th इंडिया-ईयू समिट में हिस्सा भी लिया। जहां ग्लोबल इशू क्लाइमेट चेंज और माइग्रेशन क्राइसिस जैसे मुद्दों पर बात हुई। तीन देशों के दौरे के पहले पड़ाव के तहत मोदी बुधवार को बेल्जियम पहुंचे। यहां के बाद वे अमेरिका और फिर सऊदी अरब जाएंगे।
मोदी की स्पीच के अपडेट्स…
1.28 AM:‘हम वोटबैंक की राजनीति नहीं करते, जो नहीं देते उनका भी भला करते हैं’
1.25 AM:सबसे ज्यादा दूध का उत्पादन 2015 में हुआ: मोदी
1.24 AM:2015 में सबसे ज्यादा कोयला और बिजली का उत्पादन हुआ: पीएम
1.24 AM:5 करोड़ गरीब लोगों को गैस कनेक्शन दिया जाएगा: मोदी
1.20 AM:‘मेरी गुजारिश पर 90 लाख लोगों ने सब्सिडी छोड़ दी’
1.19 AM: 2015 में सबसे ज्यादा गरीबों को गैस सिलेंडर मुहैया कराया: मोदी
1.19 AM: ‘दिशा सही हो, पॉलिसी स्पष्ट हो तो भारत को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता’
1.11 AM:‘आज किसानों को यूरिया के लिए लाइन में लगना नहीं पड़ता’
1.11 AM: देश आजाद होने के बाद सबसे ज्यादा यूरिया का उत्पादन 2015 में हुआ: पीएम
1.11 AM:आतंकवाद को धर्म से न जोड़ें, धर्म कभी यह नहीं सिखाता: पीएम
1.05 AM:भारत आतंकवाद के सामने न तो झुका है और न झुकेगा: मोदी
1.05 AM:9/11 अटैक के बाद दुनिया को आतंकवाद की चुनौती का पता चला: पीएम
1.05 AM:सिर्फ बम और बंदूक से आतंकवाद खत्म नहीं होगा, समाज को जागरूक होना होगा: पीएम
1.04 AM: ‘आर्थिक संकट के इस दौर में दुनिया भारत की ओर देख रही है’
1.03 AM: ‘बिना नाम लिए पाकिस्तान पर निशाना, अच्छे बुरे आतंकवाद के बहस में उलझे’
1.03 AM:‘पिछले साल 90 देश आतंकवाद के शिकार’
1.02 AM: ‘दुनिया एकजुट होकर आतंकवाद का मुकाबला करे’
1.02 AM: आतंकवाद मानवता को चुनौती दे रहा है: पीएम
1.00 AM:इससे पहले उन्होंने ब्रसेल्स अटैक में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी।
1.00 AM:ब्रसेल्स में पीएम मोदी इंडियन कम्युनिटी को एड्रेस कर रहे हैं।
– बता दें कि इस साल मोदी का यह पहला विदेश दौरा है।
– इससे पहले वे पिछले साल दिसंबर में रूस, अफगानिस्तान और पाकिस्तान गए थे।
नैनीताल में लगे टेलिस्कोप को ब्रसेल्स से किया एक्टिवेट
 – मोदी और चार्ल्स मिशेल ने एशिया के सबसे बड़े ऑप्टिकल टेलिस्कोप को टेक्निकली एक्टिवेट किया।
– ये टेलिस्कोप नैनिताल के नजदीक देवस्थल में लगा हुआ है। इसे भारत और बेल्जियम की एक कंपनी ने मिलकर बनाया है।
– पीएम मोदी ने कहा, “ब्रसेल्स में 6,500 किमी दूर होकर भी रिमोट से हम यह टेलिस्कोप एक्टिवेट कर पाए हैं।”
– “यह बताता है कि ज्वाइंट एफर्ट हो, तो कुछ भी नामुमकिन नहीं है।”
– इसके अलावा लखनऊ मेट्रो के लिए यूरोपियन इन्वेस्टमेंट की मदद से लोन एग्रीमेंट साइन किया गया।
’40 साल से टेरर से लड़ रहा भारत’
 – प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले आठ दिन बेल्जियम के लिए बेहद दुख भरे रहे हैं।
– दुख की इस घड़ी में पूरा भारत बेल्जियम के लोगों के साथ है। हमने इस तरह के कई हमले झेले हैं।
– मोदी ने कहा, “आंतक से हर देश को नुकसान हो रहा है। भारत इससे पिछले 40 साल से लड़ रहा है।”
– इससे पहले उन्होंने ब्रसेल्स टेरर अटैक में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी।
22 मार्च को ब्रसेल्स के जावेंटेम एयरपोर्ट और मालबीक मेट्रो स्टेशन को तीन सुसाइड अटैक के जरिए टारगेट किया गया था।
– मालबीक मेट्रो स्टेशन ब्लास्ट में एक भारतीय राघवेंद्र गणेशन सहित 21 लोगों की मौत हुई थी।
सीईओज की बैठक में फर्स्ट वर्ल्ड वॉरका जिक्र
– मोदी ने एगमॉन्ट पैलेस में बेल्जियम के लीडिंग बिजनेसमैन और सीईओज से मुलाकात की।
– इस दौरान बेल्जियम के तीनों फेडरल रीजन के चीफ भी मौजूद रहे।
– मोदी ने यहां के सीईओज को भारत में इन्वेस्ट करने के लिए इनवायट किया।
– इसके साथ ही मीटिंग में मेक इन इंडिया, क्लीन इंडिया और डिजिटल इंडिया में बेल्जियम के पार्टिसिपेशन पर जोर दिया।
– इस दौरान मोदी ने बताया कैसे 100 साल पहले भारत से 1.30 लाख सैनिकों ने यहां आकर जंग लड़ी थी। तब 9000 भारतीय जवानों ने अपनी जान कुर्बान की थी।
– मोदी फर्स्ट वर्ल्ड वॉर का जिक्र कर रहे थे। उस वक्त अंग्रेजों ने बेल्जियम में इन सैनिकों को तैनात किया था।
हीरा कारोबारियों से मिले
 – इसके अलावा पीएम मोदी ने बेल्जियम के हीरा कारोबारियों से भी मुलाकात की।
– उन्होंने हीरे के बिजनेस को दोनों देशों के बीच पुराने रिलेशन का जरिया बताया।
– साथ ही कहा कि इसके कारण भारत में कई लोगों को रोजगार मिला।
– बता दें कि बेल्जियम की हीरा इंडस्ट्री में बड़ी संख्या में भारत के लोग काम करते हैं।
– दुनिया के 84% रफ डायमंड की कटिंग और पॉलिंशिंग बेल्जियम के शहर एन्ट्वर्प में होती है।
– न्यूक्लियर एनर्जी, बायो टेक्नोलॉजी और शिपिंग से जुड़े एग्रीमेंट भी दोनों देशों के बीच हो सकते हैं।
1. यूएस विजिट में नजर दुनिया भर से न्यूक्लियर को-ऑपरेशन पर
 – मोदी 4th न्यूक्लियर सिक्युरिटी समिट में हिस्सा लेने के लिए 31 मार्च और 1 अप्रैल को वॉशिंगटन में रहेंगे।
– 53 देशों के नेता और चार इंटरनेशनल ऑर्गनाइजेशन से जुड़े लोग इस समिट में हिस्सा लेंगे।
– इस समिट में न्यूक्लियर सिक्युरिटी को कैसे बेहतर किया जा सकता है, इस पर चर्चा होगी।
– न्यूक्लियर सिक्युरिटी के साथ ही न्यूक्लियर टेररिज्म और उससे जुड़े खतरों पर भी बातचीत होगी।
2. सऊदी दौरे पर नजर
 – सऊदी अरब दुनिया का सबसे बड़ा ऑयल एक्सपोर्टर देश है। अरब देशों की जीडीपी में 25% कॉन्ट्रिब्यूशन सऊदी अरब का है।
– गल्फ को-ऑपरेशन काउन्सिल के देशों की कुल जीडीपी में 50% कॉन्ट्रिब्यूशन सऊदी अरब का है।
– हर साल दुनिया भर के लोग हज के लिए भी सऊदी अरब जाते हैं। करीब 1 लाख 34 हजार भारतीय हर साल हज के लिए जाते हैं।
– मोदी भारत से हज पर जाने वाले लोगों के लिए ज्यादा सहूलियतों की मांग कर सकते हैं।
– यह भारत का चौथा सबसे बड़ा ट्रेडिंग पार्टनर है।
– सऊदी अरब में भारत का एक्सपोर्ट 11 बिलियन डॉलर से ज्यादा है।
– भारत में सप्लाई होने वाले क्रूड का 20% हिस्सा सऊदी अरब से आता है।
– पिछले साल भारत ने सऊदी अरब से 21 बिलियन डॉलर का क्रूड खरीदा था।