पीएम मोदी बोले-इतिहास बदलने की कोशिश है पाकिस्तान से बातचीत

नई दिल्ली/ कोच्चि. पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा है कि पाकिस्तान से बातचीत इतिहास को बदलने की कोशिश है। मंगलवार को केरल के कोच्चि में पीएम ने कहा कि भारत की यह कोशिश आतंकवाद को खत्म करने की शुरुआत भी हो सकती है। पीएम देश के सबसे बड़े एयरक्राफ्ट कैरियर INS विक्रमादित्य पर टॉप मिलिट्री कमांडरों से बातचीत कर रहे थे।
पीएम ने क्या कहा?
-पीएम मोदी ने कहा कि हम पाकिस्तान से बातचीत की कोशिश इसलिए कर रहे हैं ताकि इतिहास को दुरुस्त किया जाए और उसे बदला जा सके।
-उन्होंने कहा कि भारत अपने सुरक्षा इंतजाम में कोई कमी नहीं करने जा रहा है।
-पड़ोसी देश के साथ शांतिपूर्ण संबंध बनाने के साथ ही, आपसी सहयोग बढ़ाने और पाकिस्तान की स्टेबिलिटी और प्रॉस्पेरिटी को प्रोमोट कर क्षेत्र में शांति स्थापित करने की कोशिश करना चाहते हैं।
…इसलिए शुरू की NSA लेवल टॉक
-पीएम ने कहा कि हम बातचीत में पाकिस्तान की नीयत को भी टेस्ट करेंगे।
-मोदी ने कहा कि भारत और पाकिस्तान को अपने फ्यूचर के लिए कोशिश करनी होगी।
-इसलिए हमने पाकिस्तान के साथ NSA लेवल की बातचीत शुरु की है। जिसमें दोनों देशों के सिक्युरिटी एक्सपर्ट फेस-टू-फेस बात कर रहे हैं।
-हम इस दिशा में टेररिज्म पर पाकिस्तान की तरफ से किए जा रहे प्रयासों को जज करेंगे।
-पीएम मोदी ने कहा कि हमारा पड़ोसी देश हमारे फ्यूचर के लिए सबसे अहम है।
-लेकिन वहां के हालात हमारे लिए चुनौती भरे हैं।
-टेररिज्म, सीजफायर वॉयलेशन, लगातार जारी हथियारों की होड़, न्यूक्लियर बम बनाने की धमकी, मिलिट्री मॉर्डनाइजेशन जैसी बातों ने दक्षिण एशिया को अस्थिरता की छाया में घेरे रखा है।