बटलर को रनआउट कर विवादों में आए अश्विन, कहा- यह सहज प्रतिक्रिया; वार्न बोले- मैं निराश हुआ

पंजाब और राजस्थान के बीच हुए मुकाबले में अश्विन ने बॉलिंग के वक्त बटलर को रनआउट किया थाराजीव शुक्ला ने कहा- इस तरह से रनआउट के खिलाफ थे आईपीएल कप्तान, मीटिंग में कोहली-धोनी भी मौजूद थेइस तरह से आउट होने पर रॉयल्स के खिलाड़ी बटलर ने नाराजगी जाहिर की थी

नई दिल्ली. राजस्थान रॉयल्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच खेले गए मैच में जोस बटलर के रनआउट को लेकर रविचंद्रन अश्विन की आलोचना की जा रही है। अश्विन की बॉलिंग के दौरान बटलर क्रीज से आगे निकल गए। अश्विन ने इसी दौरान उन्हें रनआउट कर दिया था। इस तरह के रनआउट को ‘मांकड़िंग’ कहा जाता है। आईपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ला ने कहा कि आईपीएल की टीमों के कप्तान और मैच रेफरी इस तरह से रनआउट के खिलाफ थे। यह एक मीटिंग में तय हुआ था और इसमें विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी भी मौजूद थे। हालांकि, अश्विन ने कहा कि यह सहज प्रतिक्रिया थी, इसमें खेलभावना कहां से आ गई?


राजीव शुक्ला ने ट्वीट किया- कप्तानों, मैच रेफरी के बीच मीटिंग हुई थी। यहां मैं भी आईपीएल चेयरमैन के तौर पर मौजूद था। यहां तय हुआ था कि अगर कोई नॉन स्ट्राइक बल्लेबाज गेंदबाजी के वक्त क्रीज से आगे निकल जाता है, तो उसे रनआउट नहीं किया जाएगा। यह खेलभावना के चलते तय हुआ था। जहां तक मुझे याद है आईपीएल के एक एडिशन की शुरुआत के वक्त यह मीटिंग कोलकाता में हुई थी। इसमें धोनी और कोहली भी मौजूद थे।

13वें ओवर में अश्विन ने बटलर को रनआउट किया था
मैच के दौरान 184 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही रॉयल्स की टीम 69 रन पर खेल रहे बटलर की क्रीज पर मौजूदगी के चलते मजबूत नजर आ रही थी। अश्विन पारी का 13वां ओवर फेंकने आए। वे 5वीं गेंद फेंकते-फेंकते रुक गए और इसी दौरान बटलर क्रीज से आगे निकल गए। अश्विन ने उन्हें रनआउट कर दिया। इस तरह से आउट होने के बाद बटलर झल्लाहट में नजर आए। उनकी अश्विन से बहस भी हुई। यह मैच रॉयल्स हार गई।


क्रिकेटर्स ने अश्विन की निंदा की

शेन वार्न : पूर्व ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर ने कहा- रविचंद्रन अश्विन से कप्तान और व्यक्ति के तौर पर बेहद निराश हुआ हूं। सभी कप्तान आईपीएल वॉल पर हस्ताक्षर करते हैं और खेल भावना से मुकाबले पर सहमत होते हैं। अश्विन का गेंद फेंकने का इरादा बिल्कुल नहीं था। ऐसे में इसे डेडबॉल करार दिया जाना चाहिए। अब यह बीसीसीआई के ऊपर है, क्योंकि आईपीएल के लिए यह अच्छा नहीं है।

इयान  मॉर्गन: इंग्लैंड के मध्यक्रम के बल्लेबाज ने कहा- आईपीएल में जो देख रहा हूं, उस पर मुझे यकीन नहीं हो रहा है। जो युवा खिलाड़ी आने वाले हैं, उनके लिए ये बेहद खराब उदाहरण है। मुझे लगता है कि अश्विन को माफी मांगनी चाहिए। 

माइकल वॉन: इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और सलामी बल्लेबाज ने कहा- अगर बटलर को चेतावनी दी गई होती तो यह ठीक होता। अगर उन्हें चेतावनी नहीं दी गई और यह पहली बार ही था, तो मुझे लगता है कि अश्विन ने ठीक नहीं किया। देखते हैं कि अब ऐसा कितनी बार होता है।


वीनू मांकड़ के नाम पर इस तरह के रनआउट को कहा जाता है ‘मांकड़िंग’ : इस तरह के रनआउट को “मांकड़िंग’ पूर्व भारतीय कप्तान वीनू मांकड़ के नाम पर कहा जाता है। भारतीय टीम 1947 में ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर थी। मांकड़ बॉलिंग कर रहे थे और इस दौरान ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज बिल ब्राउन क्रीज से आगे निकल गए। मांकड़ ने उन्हें रनआउट कर दिया था। मांकड़ को भी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। हालांकि, तब ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी संभाल रहे डॉन ब्रैडमैन ने उनका बचाव किया था। उन्होंने कहा था कि ऐसा क्यों हो रहा है, यह मैं समझ नहीं पा रहा हूं। क्रिकेट के नियम स्पष्ट हैं। बॉल फेंके जाने तक नॉन स्ट्राइक पर खड़े बल्लेबाज को क्रीज में रहना होता है।

दूसरी बार ‘मांकड़िंग’ हुए बटलर

यह दूसरी बार है जब जोस बटलर ‘मांकड़िंग’ हुए हैं। इससे पहले वे 2014 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे में मांकड़िंग हुए थे। उन्हें तब गेंदबाज सचित्र सेनानायके ने गेंद फेंकने से पहले चेतावनी भी दी थी, लेकिन वे फिर भी क्रीज से बाहर निकल गए थे। उस समय बटलर 21 रन पर खेल रहे थे और इंग्लैंड का स्कोर 199 रन था। श्रीलंका ने वह मुकाबला 6 विकेट से जीता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *