बुमराह की नो-बॉल ने PAK को दिया मौका, 5 वजहों से हारी टीम इंडिया

स्पोर्ट्स डेस्क. टीम इंडिया को 180 रन से हराकर पाकिस्तान ने पहली बार चैम्पियंस ट्रॉफी पर कब्जा कर लिया। विराट कोहली ने फाइनल में टॉस जीतकर पहले बॉलिंग का फैसला लिया। पाकिस्तान ने 50 ओवर में 4 विकेट खोकर 338 रन बनाए। चौथे ओवर में जसप्रीत बुमराह की बॉल पर फखर जमान विकेट के पीछे धोनी को कैच दे बैठे, लेकिन ये नो-बॉल हो गई। उस वक्त जमान महज 3 रन पर खेल रहे थे। नो बॉल फेंकना टीम इंडिया के लिए बड़ी गलती साबित हुआ। जमान ने इसका फायदा उठाया और करियर की पहली सेन्चुरी लगाई। इसके बाद का मुकाबला एकतरफा ही नजर आया। बड़े टारगेट का पीछा करते हुए टीम इंडिया 30.3 ओवर में 158 रन पर ऑल आउट हो गई। मोहम्मद आमिर और हसन अली ने 3-3 विकेट लिए।
इन PAK प्लेयर्स ने दिलाई जीत…
अजहर अलीः59 रन बनाए। फखर जमान के साथ पहले विकेट के लिए 128 रन की पार्टनरशिप की। इससे टीम बड़े टोटल तक पहुंची।
फखर जमानः114 रन बनाए 106 बॉल में। टीम के टॉप स्कोरर।
मोहम्मद हाफीजः 5वें नंबर पर बैटिंग करते हुए 57* रन बनाए और टीम का स्कोर 300+ ले गए।
मोहम्मद आमिरः 16 रन देकर 3 विकेट लिए। रोहित, विराट और शिखर को आउट किया।
हसन अलीः19 रन देकर 3 विकेट लिए।
इंडिया की हार की 5 वजहें
1# इंडियन बॉलर्स जल्द नहीं दिला पाए ब्रेक थ्रू
-जसप्रीत बुमराह, आर अश्विन, रवींद्र जडेजा और हार्दिक पंड्या जैसे स्पेशलिस्ट इंडियन बॉलर्स शुरुआत में विकेट ही नहीं ले सके। मैच में शुरू से ही पाक बैट्समैन हावी रहे और पहले विकेट के लिए ही सेन्चुरी पार्टनरशिप हो गई। इसके अलावा पाकिस्तान ने दूसरे विकेट के लिए 72 और 5वें विकेट के लिए 71* रन की साझेदारी भी की।