बेंगलुरु में मोदी ने किया U-19 में भारत की जीत का जिक्र

बेंगलुरु.नरेंद्र मोदी ने बेंगलुरु में एक इलेक्शन रैली में राज्य की कांग्रेस सरकार पर बड़े आरोप लगाए। मोदी ने कहा- हमारे देश में कुछ लोग देश हित की बजाए सिर्फ अपने फायदे के बारे में सोचते हैं। कर्नाटक में कानून का शासन नहीं अपराधियों का शासन है। पीएम ने शनिवार को अंडर 19 वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम इंडिया और उसके कोच राहुल द्रविड़ का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा- राहुल द्रविड़ ने हमें ईमानदारी से काम करने और दूसरों के लिए जीना सिखाया। बता दें कि यह रैली पूरे कर्नाटक में 90-दिवसीय बीजेपी की परिवर्तन यात्रा के समापन पर आयोजित की गई। बता दें कि कर्नाटक में अगले कुछ महीनों में चुनाव हैं। कर्नाटक में इस वक्त कांग्रेस की सरकार है।

कर्नाटक में मोदी की स्पीच, 10 प्वाइंट

1) केंद्र ने पैसे दिए, कर्नाटक के लोगों को फायदा नहीं मिला

– पीएम ने कहा, “गरीबो-मध्यमवर्ग के जीवन से परेशानी कम करने के लिए सरकार काम कर रही है। कुछ लोग देश के हित की बजाय अपने और अपने हित को तरजीह देते हैं। कर्नाटक के लोग पिछले साढ़े चार साल से देख रहे हैं कि कांग्रेस ने अपना हित साधने के लिए सरकार चलाई और मुख्यमंत्री ने कारोबार किया। केंद्र की दी हुई राशि का लाभ यहां के लोगों तक नहीं पहुंचा है। जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी, तब कर्नाटक को 73 हजार करोड़ रुपए मिलते थे। जब बीजेपी की सरकार बनी तो कर्नाटक को 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि मिलना तय हुआ। 180% की बढ़ोतरी हुई। केंद्र ने कर्नाटक को अन्य योजनाओं, शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, ग्रामीण विकास, गरीबों के घर के लिए मदद दे रही है।

क्या कर्नाटक में आपको इस राशि का सही इस्तेमाल होता दिखा है। क्या केंद्र से ज्यादा पैसे मिलने के बावजूद कर्नाटक में कोई सुधार नजर आता है? कर्नाटक को विकास की नई ऊंचाई पर ले जाने के लिए जरूरी है कि यहां की जरूरतों के हिसाब से काम किया जाए। बेंगलुरु के लोगों की बड़ी परेशानी के समाधान की शुरुआत बजट में हो चुकी है।”

2) 44 बड़े प्रोजेक्ट्स पर काम जारी

– मोदी ने आगे कहा, “बहुत जल्द बेंगलुरु में 17 हजार करोड़ रुपए की लागत से 160 किलोमीटर लंबे सबअर्बन रेलवे का काम शुरू हो जाएगा। इसके अलावा जाम से भी लोगों को मुक्त किया जाएगा और पर्यावरण की रक्षा होगी। केवल कर्नाटक में 82 हजार करोड़ से 44 बड़े प्रोजेक्ट्स पर काम चल रहा है। इनमें से 33 प्रोजेक्ट रेलवे और रोड के ही हैं।”
– “इन्फ्रास्ट्रक्चर पर जुड़े इतने ज्यादा प्रोजेक्टों पर केंद्र का निवेश बताता है कि कर्नाटक में नेक्स्ट जेनरेशन इन्फ्रास्ट्रक्चर को महत्व दिया जा रहा है। यूपीए के कार्यकाल में 4 साल में जहां 950 किलोमीटर नेशनल हाईवे बने थे। इस सरकार के साढ़े तीन सालों में 1006 किलोमीटर नेशनल हाईवे का निर्माण किया जा चुका है। कर्नाटक की चिंता किसके दिल में है, ये यहां के लोग समझ सकते हैं।”

3) हवाई सेवा सस्ती करना लक्ष्य

– “200 किलोमीटर से ज्यादा रेल लाइन बिछाई, दोहरीकरण किया गया। लाखों करोड़ रुपए की ये योजनाएं अपने साथ रोजगार के भी नए अवसर लेकर आती हैं। नेक्स्ट जेनरेशन इन्फ्रास्ट्रक्चर का विकास ट्रांसपोर्ट सेक्शन को मजबूती देगा। इस साल के बजट में इन्फ्रास्ट्रक्च के खर्च पर एक लाख करोड़ की बढ़ोतरी की गई है। इस बार देशभर में 9000 किलोमीटर से ज्यादा नेशनल हाईवे बनाने का लक्ष्य रखा है।

– “भारत माला के तहत 5 लाख 35 हजार करोड़ की राशि से 5035 किलोमीटर सड़क बनाई जाएगी। 600 रेलवे स्टेशनों के आधुनिकीकरण का काम किया जा रहा है। उड़ान के तहत 56 एयरपोर्ट और 31 हेलिपैड का काम भी शुरू किया जाएगा। हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई सफर कर सके इतनी सस्ती हवाई सेवा करना है। हमारी सरकार रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म की नीति पर काम कर रही है। हम छोटी-छोटी मुश्किलों को सुलझाते हैं।”

4) किसानों की जरूरत के लिए कदम उठाए

– “किसान को फसलों का बीमा करवाने के लिए भटकना पड़ता था, फसल बेचने के लिए भटकना पड़ता था। हमारी सरकार ने एक-एक परेशानी को दूर करने के लिए संवेदनशीलता के साथ किसानों की जरूरत के मुताबिक कदम उठाए। किसानों को संकट से बचाने के लिए हमने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना शुरू की। अधूरी योजनाओं को पूरा करने के लिए सिंचाई योजना शुरू की। सिंचाई योजना में अरबों रुपए खर्च किए जा रहे हैं। दिल्ली सरकार और कर्नाटक सरकार की ताकत मिल जाएगी तो किसान के खेत में पानी पहुंचेगा कि नहीं।”

5) सब्जियां हमारी ‘TOP प्रियॉरिटी’

– पीएम ने कहा, “सरकार ने तय किया है कि कृषि उत्पादों पर किसानों को लागत मूल्य से डेढ़ गुना ज्यादा न्यूनतम समर्थन मूल्य दिलाया जाएगा। ये किसानों तक पहुंचे, उन्हें संतोष हो… इसके लिए राज्य सरकारों के साथ मिलकर इस काम को लागू किया जाएगा। किसान के बेटे येदियुरप्पा सीएम बनेंगे तो कर्नाटक में ये योजना सबसे ज्यादा सफल होगी। मुझे मालूम है कि येदियुरप्पा के दिल में किसानों के लिए कितना लगाव है।”
– “एमएसपी का पूरा लाभ किसानों को मिले इसके लिए भी केंद्र सरकार काम कर रही है। ग्रामीण रिटेल एग्रीकल्चर मार्केट विकसित करने की योजना बनाई गई है। 22000 से ज्यादा ग्रामीण हाटों, 580 ऑनलाइन कृषि मंडियों के खुलने से उपज बेचने में आसानी होगी। सब्जियां पैदा करने वाले किसान भी हमारी टॉप प्रॉयॉरिटी में हैं। जब मैं टॉप कहता हूं तो तीन सब्जियां हिंदुस्तान में हर जगह नजर आएंगी। टोमैटो, अॉनियन और पोटैटो। ये है टॉप प्रॉयॉरिटी। इनकी पैदावार देने वाले किसानों को ऑपरेशन ग्रीन के तहत फायदा दिया जाएगा। ऑपरेशन ग्रीन सब्जी उगाने वाले, फल-फूल उगाने वालों के लिए अच्छी व्यवस्था देगा, जो लाभकारी होगी। एक और बड़ा फैसला हमने लिया है। सभी प्रकार के फॉर्मर, प्रोड्यूसर ऑर्गनाइजेशन को कॉपरेटिव जैसा फायदा दिया जाएगा। इनकमटैक्स माफ कर दिया जाएगा।”

6) नौजवान जॉब क्रिएटर बनना चाहता है

– मोदी ने कहा, “मैं आपसे जानना चाहता हूं कि किसानों के प्रति ऐसी संवेदनशीलता कांग्रेस सरकार ने दिखाई है? केंद्र की कांग्रेस सरकारों ने दिखाई है? देश जानता है कि उन्होंने देश और राज्य कैसे चलाया है। कर्नाटक में सूखे के दौरान राज्य सरकार का रवैया कैसा रहा। इसी से पता चलता है कि कांग्रेस किसानों के लिए कितनी गंभीर है। मध्यमवर्गीय परिवारों के युवाओं की आकांक्षाएं, काम करने का जज्बा देश को नई ताकत देगा। इसीलिए सरकार ने स्किल, स्टैंडअप और स्टार्टअप इंडिया जैसी योजनाएं चलाईं।”
– “स्टार्टअप के लिए 10 हजार करोड़ का फंड बनाकर प्रोत्साहित किया जा रहा है। जिसका फायदा मध्यम वर्ग के नौजवान को मिलेगा। वो जॉब सीकर नहीं, जब क्रिएटर बनना चाहता है। अपने दम पर कुछ करना चाहता है। अपना काम शुरू करने के लिए बैंक से कर्ज लेने जाता था तो बैंक गारंटी मांगते थे। मुद्रा योजना के तहत हमारी सरकार ने स्वरोजगार के लिए बैंक गारंटी देने का प्रावधान खत्म कर दिया। 3 करोड़ स्वरोगार करने वाले बने हैं इससे, जो रोजगार कर रहे हैं और दे भी रहे हैं। इस योजना के लिए अबकी बार 3 लाख करोड़ रुपए कर्ज देने का लक्ष्य रखा है। आप कल्पना कर सकते हैं कि अब युवा देश को कहां से कहां ले जाएंगे।”

7) यहां उल्टी गंगा बह रही है

– पीएम ने कहा, “कर्नाटक में एक तरफ केंद्र सरकार आगे बढ़ाने का प्रयास कर रही है। यहां ऐसी सरकार बैठी है जो उल्टी गंगा बहा रही है। आधुनिक इकोसिस्टम तो दूर की बात है, यहां कानून के राज से ज्यादा अपराधियों का राज नजर आता है। बेंगलुरु में अपराधी सामान्य आदमियों को परेशान कर रहे हैं। पूरी दुनिया में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की चर्चा होती है। हम एक कदम आगे बढ़कर ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के साथ ईज ऑफ लिविंग की बात कर रहे हैं।”
– “बीजेपी के कार्यकर्ताओं की लगातार हत्याएं हो रही हैं। कर्नाटक की जनता से कहूंगा कि इन नौजवानों की हत्याओं को समाजिक जीवन के ढांचे को चोट पहुंचाई है, इस चोट का जवाब वोट से देना है। यहां की सरकार को उखाड़ फेंकना है। कर्नाटक के अपराध मुक्त होने के साथ-साथ भ्रष्टाचार मुक्त होना भी जरूरी है।”

8) कर्नाटक में 10% वाली सरकार

– “कांग्रेस मुक्त कर्नाटक का सपना पूरा होने में ज्यादा वक्त नहीं है। जातिवाद, वंशवाद, भ्रष्टाचारवाद, बांटो राज करो की नीति से कर्नाटक को मुक्त करना है। तमाम योजनाओं, सरकारी अभियानों में कमीशनखोरी की खबरें रोजमर्रा का हिस्सा बन गई हैं। कभी ढाई सौ करोड़ तो कभी ढाई हजार करोड़। कर्नाटक की सरकार की पहचान 10% सरकार के तौर पर होती है। 10% का चढ़ावा चढ़ाए बिना कोई काम नहीं होता है।”
-“ये किसी सरकार की पहचान बन जाए तो सामान्य आदमी को भरोसा कैसे होगा। राज्य के कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस नेताओं के यहां छापे पड़ चुके हैं। कई मंत्री बेईमानी के आरोपों से जुड़े हुए हैं। यहां अनगिनत माफिया हैं, जिनका पूरा खेल कर्नाटक में चल रहा है। नंगा नाच चल रहा है। बेंगलुरु के लोगों ने खुद देखा कि कैसे स्टील ब्रिज के निर्माण के लिए बड़े-बड़े लोगों ने बड़ी-बड़ी साजिश रची। ये तो बीजेपी के विरोध और लोगों के गुस्से का असर था कि फैसले से सरकार पीछे हटी। वरना कुछ लोग करोड़ों रुपए का खेल करना चाह रही थी।”

9) अंडर-19 वर्ल्डकप जीत में राहुल द्रविड़ का योगदान

– पीएम ने शनिवार को अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड जीतने वाली टीम इंडिया का जिक्र भी किया। कहा, “हमारी अंडर 19 क्रिकेट टीम ने वर्ल्ड कप जीता। हर हिंदुस्तानी को इस बात का गौरव है कि अंडर 19 की टीम ने जो कारनामा दिखाया है, उसके पीछे इसी धरती के सपूत राहुल द्रविड़ की प्रशंसा भी होनी चाहिए। ये ऐसे लोग हैं जो दूसरों के लिए जीना सिखाते हैं। लेकिन, आज यहां ऐसी सरकार है जो कर्नाटक के लोगों की पूरी मेहनत पर पानी फेर रही है।”

10) मुस्लिम बहू-बेटियों को न्याय के लिए ट्रिपल तलाक बिल

– मोदी ने कहा, “हमारी सरकार मुस्लिम बहू-बेटियों को न्याय दिलाने के लिए संसद में तीन तलाक का बिल लेकर आई है, लेकिन कांग्रेस फिर से वोट बैंक की राजनीति कर रही है। इतना ही नहीं ओबीसी लोग ओबीसी कमीशन की मांग कर रहे हैं। हम बिल लेकर आए, लेकिन कांग्रेस उसको भी पार्लियामेंट में लटकाकर बैठी है। हम सबको साथ लेकर आगे बढ़ना चाहते हैं। न्यू इंडिया के लिए हम सबने मिलकर संकल्प लिया है, उसे कर्नाटक में बीजेपी की सरकार बनने से और बल मिलेगा। एक बार फिर बेंगलुरु के लोगों का बहुत धन्यवाद और आप लोगों ने इतनी मेहनत की। 85 दिनों की यात्रा में कोना-कोना छान डाला। मैं आपके परिश्रम को नमन करता हूं।”