बोध गया विस्फोटों के सिलसिले में सिमी के तीन सदस्यों पर आरोप

पटना की एक अदालत ने बोधगया सिलसिलेवार विस्फोटों में कथित रूप से लिप्त हैदर अली उर्फ ब्लैक ब्यूटी सहित तीन लोगों पर आरोप तय किए हैं। कल हैदर के अलावा तौफीक अंसारी और मुजिबुल्ला पर भारतीय दंड संहिता

, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम और अवैध गतिविधियां रोकथाम अधिनियम के तहत आरोप तय किए गए। इससे पहले इन तीनों पर पिछले वर्ष अक्तूबर में पटना में भाजपा नेता नरेन्द्र मोदी की हुंक्कार रैली में सिलसिलेवार विस्फोटों में लिप्त होने के लिए आरोप तय किए जा चुके हैं। राष्ट्रीय जांच एजेंसी एनआईए ने 11 सितम्बर को इन तीनों के नाम आरोप पत्र दाखिल किया था। सात जुलाई को बोधगया में सिलसिलेवार विस्फोटों में पांच लोग घायल हो गए थे। बोधगया बमविस्फोट के मास्टरमाइन्ड हैदर अली का बाल बौद्ध भिक्षु के कपड़े पर मिला था। बाल के डी एन ए टैस्ट से एन आई ए को हैदर के खिलाफ पुख्ता सबूत मिला। जांच एजेन्सी का मानना है कि हैदर ने इसी कपड़े को पहनकर मंदिर में महाबोधि वृक्ष के पास बम रखा था। एन आई ए ने आरोप पत्र में कहा है कि घटना को अंजाम देने के लिए हैदर अली और उसके सहयोगियों ने पांच बार बोधगया की यात्रा की, सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया और कहां बम लगाना है यह तय किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *