ब्रिटिश संसद के लिए चुने गए भारतीय मूल के लोगों में नारायण मूर्ति के दामाद ऋषि सॉनाक शामिल हैं।

प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने ब्रिटेन में फिर सत्‍ता हासिल कर ली है और ब्रिटेन को एकजुट तथा और भी महान बनाने के लिए सरकार का नेतृत्‍व करने का वायदा किया है। कंजरवेटिव पार्टी को चुनाव में तीन सौ इकत्‍तीस सीटों पर जीत हासिल हुई है, जो साधारण बहुमत से पांच सीट अधिक हैं। 1992 के बाद यह कंजरवेटिव पार्टी की पहली बड़ी जीत है। श्री कैमरन के प्रतिद्वंद्वी ऐड मिलिबैंड, निक क्‍लैग और नायजिल फराज़ ने चुनाव परिणाम से निराश होकर इस्‍तीफा दे दिया है। श्री कैमरन ने नई सरकार के गठन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। ब्रिटेन के आम चुनाव में भारतीय मूल के रिकॉर्ड दस लोग सांसद चुने गए हैं। इससे पहले, 2010 के आम चुनाव में भारतीय मूल के आठ लोग सांसद थे। ब्रिटिश संसद के लिए चुने गए भारतीय मूल के लोगों में कीथ वाज़, प्रीति पटेल और इन्‍फोसिस के संस्‍थापक नारायण मूर्ति के दामाद ऋषि सॉनाक शामिल हैं।