ब्रिटिश सिटिजनशिप पर घिरे राहुल, लोकसभा की एथिक्स कमेटी ने भेजा नोटिस

नई दिल्ली. ब्रिटिश सिटिजनशिप के मामले में लोकसभा की एथिक्स कमेटी ने राहुल गांधी को नोटिस भेजा है। बीजेपी एमपी अर्जुन मेघवाल ने इसकी जानकारी दी है। सोमवार को उन्होंने कहा,” कमेटी ने नोटिस जारी करके राहुल से पूछा है कि उनके पास ब्रिटिश सिटिशनशिप है?” इस कमेटी के प्रेसिडेंट लालकृष्ण आडवाणी हैं। सबसे पहले ये मुद्दा सुब्रमण्यम स्वामी ने उठाया था।
राहुल आज जवाब दे सकते हैं…
 – कांग्रेस के सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस वाइस प्रेसिडेंट आज इस नोटिस का जवाब दे सकते हैं।
– कांग्रेस की नेता अखिलेश कुमार ने कहा- “ बीजेपी बदले की कार्रवाई कर रही है। उसके पास कोई मुद्दा नहीं है तो वह अपोजिशन के नेताओं को गलत आरोपों में घेर रही है।”
– ”इन आरोपों का जवाब राजनीतिक तरीके से दिया जाएगा।”
बीजेपी सांसद ने जनवरी में लिखा था लेटर
– बीजेपी सांसद महेश गिरी ने भी जनवरी में लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन को राहुल गांधी के ब्रिटिश सिटीजन के सवाल को लेकर लेटर लिखा था।
– इसके बाद लोकसभा स्पीकर ने यह मामला आडवाणी की अगुवाई वाली कमेटी के पास भेज दिया था।
 विवाद की वजह क्या है?
 – स्वामी ने पिछले साल नवंबर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पीएम को लिखी अपनी चिट्ठी की कॉपी बांटी थी।
– साथ ही राहुल पर लगाए गए आरोपों के सबूत के तौर पर ब्रिटेन की एक कंपनी ‘ब्लैकॉप्स लिमिटेड’ के दस्तावेज मीडियाकर्मियों को दिखाए।
– स्वामी ने आरोप लगाया है कि राहुल ने ‘ब्लैकॉप्स लिमिटेड’ कंपनी खाेलने के लिए 2003-2006 के दौरान खुद को ब्रिटेन का सिटिजन बताया था।
– उन्होंने कहा था कि कंपनी खाेलने के लिए राहुल ने अपनी डेट ऑफ बर्थ का सही ब्योरा दिया। साथ ही यह भी कहा था कि वह ब्रिटेन के नागरिक हैं।
– स्वामी ने पीएम से रिक्वेस्ट की थी कि राहुल गांधी की ओर से ब्रिटेन की कंपनी को दिए गए ब्याेरे की सच्चाई का पता लगाया जाए।
– अगर यह सही पाया जाता है तो उनकी इंडियन सिटीजनशिप कैंसल करने के साथ संसद की मेंबरशिप भी खत्म कर दी जाए।
– स्वामी के मुताबिक, कांग्रेस उपाध्यक्ष ने जो किया है, वह भारतीय संविधान के खिलाफ है, इसलिए प्रधानमंत्री को इस मामले काे गंभीरता से लेना चाहिए।
– स्वामी ने उस समय कहा था कि वे इस मामले की जानकारी लोकसभा स्पीकर को भी देंगे और उनसे रिक्वेस्ट करेंगे कि इसे संसद की आचार समिति के सामने उठाया जाए।