ब्लाॉग लिखा ताकि कांग्रेस को आईना देखने का अवसर मिले: जेटली

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने न्यायाधीशों की नियुक्ति मामले को पुनर्विचार के लिए भेजने पर कांग्रेस के हंगामे पर प्रहार किया है। अपने फेसबुक ब्लॉग में अरुण जेटली ने कांग्रेस को आईना दिखाने के लिए विभिन्न लेखकों द्वारा उच्चतम न्यायालय में न्यायाधीशों की नियुक्ति पर लिखे निबंधों की श्रृंखला को साझा किया। जेटली ने कहा कि उन्होंने यह ब्लाग इसलिए लिखा ताकि कांग्रेस पार्टी को आईना देखने का अवसर मिल सके।

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने न्यायाधीशों की नियुक्ति मामले को पुनर्विचार के लिए भेजने पर कांग्रेस के हंगामे पर प्रहार किया है। अपने फेसबुक ब्लॉग में अरुण जेटली ने कांग्रेस को आईना दिखाने के लिए विभिन्न लेखकों द्वारा उच्चतम न्यायालय में न्यायाधीशों की नियुक्ति पर लिखे निबंधों की श्रृंखला को साझा किया। उन्होंने नेहरू के दौर में उच्चतम न्यायालय में न्यायाधीश बाचू जगन्नाथ दास की नियुक्ति का उदाहरण दिया और कहा कि कांग्रेस पार्टी से करीबी संबंधों के चलते उनकी नियुक्ति की गई। अरुण जेटली ने कहा कि आज के दौर में ऐसी राजनीतिक सिफारिशों के बारे में सोचना भी असंभव है।

इंदिरा गांधी के दौर का एक उदाहरण देते हुए अरुण जेटली ने कहा कि न्यायाधीशों की सामाजिक और राजनीतिक विचारधारा के ज़रिये न्यायिक नियुक्तियों को प्रभावित करने के लिए प्रधानमंत्री द्वारा वैचारिक रुप से प्रतिबद्ध कानून मंत्रियों की नियुक्ति इतिहास में एक महत्वपूर्ण मोड़ था। कानून मंत्री एच.आर.गोखले और इस्पात एवं खनन मंत्री मोहन कुमारमंगलम की जोड़ी की मुख्य प्राथमिकता उच्चतम न्यायालय द्वारा गोलकनाथ मामले में दिये गये निर्णय को बदलने की थी। जेटली ने कहा कि उन्होंने यह ब्लाग इसलिए लिखा ताकि कांग्रेस पार्टी को आईना देखने का अवसर मिल सके।