भाखड़ा में जलस्तर रिकॉर्ड ऊंचाई पर, 50 साल का रिकॉर्ड टूटा

tatpar 11 july 2013

चंडीगढ़। भाखड़ा डैम का जल स्तर बढ़ गया है। इसने पिछले 40-50 साल के रिकार्ड को तोड़ दिया है। यह जानकारी भाखड़ा बैराज प्रबंधन बोर्ड के चेयरमैन एबी अग्रवाल ने दी। मुख्यमंत्री परकाश सिंह बादल ने रोपड़, नवांशहर, फिरोजपुर, जालंधर, होशियारपुर, मोंगा, कपूरथला के जिला कलेक्टरों को सतर्कता रखने के निर्देश दिए हैं। भाखड़ा बांध में जलस्तर अब तक की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया है। भाखड़ा ब्यास प्रबंधन बोर्ड (बीबीएमबी) ने बुधवार को पंजाब सरकार को चेतावनी जारी की कि वह अगले कुछ दिनों में अतिरिक्त पानी सतलुज और ब्यास नदियों में छोड़ेगा।

बोर्ड अध्यक्ष एबी अग्रवाल ने कहा, ‘इस मौसम में हमारे जलाशयों (भाखड़ा और ब्यास) में जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। भाखड़ा में जलस्तर पिछले 40-50 सालों में सर्वाधिक है। उन्होंने कहा कि भाखड़ा की स्थिति की जानकारी देने के लिए 5 जुलाई को मुख्यमंत्री परकाश सिंह बादल के साथ बैठक की गई थी। भारी मात्रा में बर्फ पिघलने और मानसून पूर्व बारिश के चलते जलस्तर बढ़ता जा रहा है।

आगामी 7-8 दिनों में भाखड़ा का जलस्तर 1,645 फीट ऊंचाई तक होने की आशंका है। बुधवार को इसने 1,629.87 की ऊंचाई को छू लिया है। यह पिछले वर्ष इसी अवधि की तुलना में 84 फीट अधिक है। इसीलिए अगले कुछ दिनों में अतिरिक्त पानी छोडऩे की आवश्यकता है। उन्होंने कहा, ‘मैं लोगों को आश्वासन देना चाहता हूं कि हम नियंत्रित तरीके से पानी छोड़ेंगे ताकि बाढ़ नहीं आए। लेकिन चेतावनी के तौर पर कहा जा रहा है कि यदि उत्तराखंड जैसी स्थिति होगी तो बीबीएमबी या दुनिया का कोई भी अन्य संगठन असहाय होगा।