राजगढ. यहां ब्यावरा में प्रशासनिक अधिकारियों के रवैए के खिलाफ भाजपा के प्रदर्शन में बुधवार को पूर्व मंत्री बद्रीलाल यादव के बयान को लेकर नया विवाद शुरू हो गया है। यादव ने मंच से ही संबोधन में राजगढ़ की महिला कलेक्टर पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं का समर्थन करने और भाजपा कार्यकर्ताओं की अनदेखी करने का आरोप लगाया। इसी दौरान उन्होंने एक आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी। कुछ ही समय में यह टिप्पणी सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। कांग्रेस नेताओं ने भाजपा को निशाने पर ले लिया है।

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने इस टिप्पणी को सिर्फ कलेक्टर का नहीं, संपूर्ण महिला जगत का अपमान बताया। कहा- यह टिप्पणी घोर आपत्तिजनक, निंदनीय और भाजपा की महिलाओं के प्रति सोच उजागर करने वाली है।

संविधान की वजह से राजगढ़ कलेक्टर हैं 

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने मंच से कहा कि कलेक्टर ने जिस तरह से कार्यकर्ताओं को थप्पड़ मारे और लाठी चलवाई। इससे साबित होता है कि उसके अंदर गर्मी ज्यादा है। कमलनाथ सरकार के इशारे पर ये काम हो रहा है। सीएए का समर्थन कर रहे कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट संविधान और भारत माता का अपमान है। जिस संविधान का वह विरोध कर रही हैं, उसी संविधान की वजह से निधि निवेदिता कलेक्टर हैं, वरना कहीं रोटी बना रही होतीं। 

सलूजा ने बताया शर्मनाक 

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने इसे बेहद शर्मनाक बताया है। उन्होंने कहा कि शिवराजजी, राकेश सिंह, गोपाल भार्गव की उपस्थिति में राजगढ़ में भाजपा सरकार में मंत्री रहे बद्रीलाल यादव एक महिला कलेक्टर के बारे में कितना गंदा बोल रहे है और ये सब मंच पर मुस्कुरा रहे हैं। 

भाजपा नेता राजगढ़ पहुंचे हैं और रैली निकाल रहे हैं 

ब्यावरा में रविवार को नागरिकता कानून के समर्थन में रैली निकाल रहे भाजपा कार्यकर्ताओं पर कलेक्टर निधि निवेदिता और डिप्टी कलेक्टर प्रिया वर्मा ने धारा-144 का हवाला देकर रोका और फिर थप्पड़ मारे और बाद में लाठी चार्ज करा दी, जिससे कई लोग घायल हो गए थे। घटना पर भाजपा नेताओं ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी और कलेक्टर पर सरकार के पक्ष में कार्य करने का आरोप लगाया था। इसी घटना के खिलाफ बुधवार को ब्यावरा में भाजपा ने बड़ा विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *