भाजपा ने कहा- मध्यप्रदेश के सीएम 1984 दंगों के आरोपी हैं, वह कुचल देंगे, इसलिए बागी विधायक भोपाल नहीं आना चाहते हैं

मध्यप्रदेश में सत्ता के लिए भाजपा और कांग्रेस के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर तेज होता जा रहा है। बुधवार को ग्रेसस रिजॉर्ट में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। वीडी शर्मा ने कहा- पूरे मध्य प्रदेश में हुड़दंग गैंग चल रहा है। अब यह बेंगलुरु चला गया है। इस गैंग ने वहां वही किया, जो यहां करता था। कांग्रेस एक तरफ कोरोनावायरस कहकर विधानसभा की कार्यवाही स्थगित करती है। दूसरी तरफ सड़क पर हुड़दंग कर रही है। कहां गया कोरोनावायरस? दिग्विजय सिंह के कारण विधायक बेंगलुरु गए हैं। मप्र में 84 के दंगों के आरोपी सीएम हैं। वे लोग कुचल देंगे, इसलिए बेंगलुरु से विधायक भोपाल नहीं आना चाहते हैं। 

वहीं, शिवराज सिंह ने कहा- मप्र में माफिया राज चल रहा है। पिछले 15 महीने में माफिया राज बढ़ गया है। शराब माफिया, ट्रांसफर माफिया हावी हैं। शराब की नीतियों को सरकार के मंत्री, अफसर नहीं, माफिया बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह कमलनाथ को डरा-डरा कर काम करवा रहे हैं। अब सरकार बचाने की बात कर रहे हैं। आज अल्पमत की सरकार है। कहां है कांग्रेस के पास बहुमत? भाजपा के 106 विधायकों ने राजभवन में परेड की। राज्यपाल ने विधायकों से बातचीत भी की। कांग्रेस सरकार का बहुमत चला गया तो जोड़-तोड़, लालच, प्रलोभन, दबाव डाला जा रहा है। बेंगलुरु में ठहरे विधायकों के परिवारों पर दबाव डाला जा रहा है।

चौहान ने कहा- सरकार ने विधायकों को रास्ते में रोकने की तैयारी कर रखी

उन्होंने कहा- बेंगलुरु में ठहरे विधायक यहां आते हैं तो उनकी जान को खतरा है। सरकार ने रास्ते में रोकने की तैयारी कर रखी थी। सरकार विधानसभा तक नहीं पहुंचने देना चाहती है। भोपाल में सिंधिया पर हमला हो सकता है, तो विधायकों के सुरक्षित होने पर कैसे भरोसा कर लिया जाए। सरकार में नैतिकता है तो फ्लोर टेस्ट करा दे। आखिर क्यों नहीं बेंगलुरु से आने वाले विधायकों को सीआरपीएफ की सुरक्षा दी जा रही है। 

सीहोर में दो रिजॉर्ट में ठहरे हैं भाजपा विधायक
भाजपा ने ग्रेसेस रिजॉर्ट में 50 और क्रिसेंट रिजॉर्ट में 4 कमरों को बुक कराया गया है। सोमवार शाम भाजपा के 100 से ज्यादा विधायक दिल्ली जाने के लिए भोपाल एयरपोर्ट पहुंचे थे, लेकिन तभी राज्यपाल लालजी टंडन ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से 17 मार्च को ही फ्लोर टेस्ट कराने को कहा था। इस वजह से भाजपा ने अपने विधायकों को एयरपोर्ट से दो अलग-अलग रिजॉर्ट में शिफ्ट कर दिया। यह विधायक तीन दिन से ही ग्रेसेस रिजॉर्ट में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *