भारतीय पायलट ने F16 को गिराया, उसके पायलट को पाकिस्‍तानियों ने भारतीय समझकर मार डाला

भारत की कूटनीतिक दबाव के चलते भले ही पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन (Abhinandan) को रिहा कर दिया है, लेकिन उनके ही लोग अपने एयरफोर्स के पायलट शाहजुद्दीन को भारतीय पायलट समझ बैठे और उसे पीट-पीटकर मार डाला. हालांकि. दोनों ही पायलटों में काफी समानता थी. एक पायलट दुश्मन के क्षेत्र से निकलकर अपने देश पहुंच गया तो दूसरे को उनके देश के ही लोगों ने मौत के घाट उतार दिया. दोनों ही पायलट अपनी देश की रक्षा में जुटे थे.

यह दावा लंदन में रह रहे वकील खालिद उमर ने अपनी फेसबुक पोस्ट में किया है. इसके मुताबिक, एफ-16 को पाक वायुसेना की 19वीं स्क्वाड्रन का पायलट शहजाजुद्दीन उड़ा रहा था. उमर ने पोस्ट में लिखा- दुखद है कि पाक के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में इजेक्ट करने के बाद पाकिस्तानी पायलट जिंदा था, लेकिन भीड़ ने उसे भारतीय समझकर पीटा. जब उन्हें पता चला कि यह हमारा ही आदमी है तो शाहजुद्दीन को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया. वह रिटायर्ड एयर मार्शल का बेटा था. दो एयर मार्शल के बेटों (अभिनंदन और शहजाज) ने आसमान में लड़ाई लड़ी. दोनों जमीन पर गिरे, लेकिन एक जिंदा नहीं बचा.

बता दें कि जिस तरह से विंग कमांडर अभिनंदन (Abhinandan) की पीढ़ियां Indian Airforce में अपनी सेवाएं दे रही हैं, उसी तरह ही पाकिस्तानी विंग कमांडर शाहजुद्दीन का परिवार भी पाकिस्तान वायुसेना में अपनी सेवाएं दे रहा है. शाहजुद्दीन के पिता वसीमुद्दीन पाकिस्तान एयरफोर्स में एयर मार्शल हैं, जिन्होंने एफ-16 और मिराज की उड़ान भरी है. बता दें कि भारत ने सीमा में घुसने की कोशिश कर रहे पाकिस्तानी वायुसेना के जहाजों को खदेड़ दिया था. इसी दौरान भारत ने उसके एक एफ-16 विमान को मार गिराया था. हालांकि, एफ-16 उड़ा रहे शाहजुद्दीन ने पैराशूट से पीओके में सफलतापूर्वक उतर गए. वहां लोगों ने भारतीय वायुसेना का पायलट समझ कर हमला कर दिया. उन्हें घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया.