भारतीय मूल्यों से प्रेरित है प्रदेश की जन-कल्याणकारी योजनाएँ

tatpar 22 july 2013

उज्जैन में पुजारियों, संतों के आशीर्वाद समारोह में मुख्यमंत्री श्री चौहान

 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य सरकार ने भारतीय सांस्कृतिक मूल्यों और परंपराओं से प्रेरणा लेकर सामान्य-जन के सुझावों के आधार पर लोक-कल्याणकारी योजनाएँ बनाई हैं। उन्हांेने कहा कि भारत का सांस्कृतिक वैभव ही दुनिया को मार्गदर्शन देगा। श्री चौहान आज धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान के साथ उज्जैन में भगवान महाकाल के दर्शन और विशेष आरती में शामिल होने के बाद पुजारी और संत समाज द्वारा आयोजित आशीर्वाद महोत्सव को संबोधित कर रहे थे। सांसद श्री नरेन्द्र सिंह तोमर और श्री प्रभात झा भी पूजा-अर्चना में शामिल हुए।

श्री चौहान ने कहा राज्य सरकार की योजनाएँ मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना या कन्यादान जैसी योजनाओं के मूल में भारतीय सोच और सांस्कृतिक मूल्य है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार हमेशा धर्म के रास्ते पर चलते रहेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने हमेशा लोगों के विवेक को सर्वाधिक महत्व दिया है और उनके सुझावों को प्राथमिकता दी है। उन्होंने भगवान श्री परशुराम की जन्म-स्थली जानापाव के विकास और परशुराम जयंती पर शासकीय अवकाश घोषित करने की चर्चा करते हुए कहा कि सरकार ने सभी समुदायों की भावनाओं का ख्याल रखा है।

भारतीय मूल्यों पर आधारित लोक-कल्याणकारी योजनाओं और समुदाय हितैषी निर्णयों के लिये गुरू पूर्णिमा के पावन अवसर पर आज उज्जैन में श्री महाकालेश्वर मंदिर पुजारी पुरोहित और अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज द्वारा यह आयोजन किया गया था।

अखिल भारतीय ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष श्री सुरेन्द्र चतुर्वेदी ने कहा कि मुख्यमंत्री ने सभी समाजों के हितों का ख्याल रखा है। उन्होंने राज्य सरकार द्वारा जानापाव के विकास के लिये

11 करोड़ रुपये की स्वीकृति देने के लिये मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

कार्यक्रम में वैदिक मंत्रों के साथ मुख्यमंत्री ने ब्राह्मण समाज के धर्मगुरूओं, संतों और पुजारियांे का सम्मान किया और उनसे आशीर्वाद प्राप्त किया। संतों और पुजारियों ने मुख्यमंत्री को जन-कल्याण के हर काम में सफल होने का आशीर्वाद दिया।

इस अवसर पर मंत्रि-परिषद के सदस्य श्री कैलाश विजयवर्गीय, श्रीमती अर्चना चिटनीस, डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया, श्री पारस जैन, निगम-मंडलों के अध्यक्ष और बड़ी संख्या में श्ऱद्धालु उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *