भारत-इंग्लैंड फाइनल मुकाबले में ये 11 आंकड़े रहे खास

tatpar 24 june 2013

बर्मिघम। फाइनल मुकाबले में भारत ने इंग्लैंड को 5 रन से हराकर आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा जमा लिया। भारतीय खिलाड़ियों ने रविवार को जबरदस्त खेल का प्रदर्शन किया। आइए, एक नजर में जानते हैं कि इस मुकाबले में क्या-क्या खास आंकड़े रहे:

– रवींद्र जडेजा ने आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में 12 विकेट लिए, जो कि इस ट्रॉफी में एक भारतीय रिकॉर्ड है। चैंपियंस ट्रॉफी में इतने विकेट किसी भी भारतीय गेंदबाज ने नहीं लिए हैं।

– फाइनल मुकाबले में 25 गेंदों में नाबाद 33 रन बनाने के साथ ही जडेजा का इंग्लैंड के खिलाफ 11 पारियों में 313 रन हो गए। जडेजा का इंग्लैंड के खिलाफ जबरदस्त प्रदर्शन रहा है।

– रवींद्र जडेजा को फाइनल मुकाबले में मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया। यह 7वां मौका था जब जडेजा मैन ऑफ द मैच बने। इनमें से 4 बार उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ ही मिला है।

– रवि बोपारा और इयोन मॉर्गन ने पांचवें विकेट के लिए 64 रन जोड़े, जो आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में भारत के खिलाफ इंग्लैंड का एक रिकॉर्ड है।

– शिखर धवन ने 5 मुकाबलों में 2 शतक और 1 अर्धशतक की मदद से 363 रन बनाए, जो कि आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में एक

भारतीय रिकॉर्ड है। चैंपियंस ट्रॉफी में इससे पहले किसी भारतीय खिलाड़ी ने इतने रन नहीं बनाए।

– धवन द्वारा 5 मैचों में बनाए गए 363 रन चैंपियंस ट्रॉफी इतिहास में दूसरा सर्वाधिक रन है। वेस्टइंडीज के क्रिस गेल ही एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं, जिन्होंने 2006-07 में 8 मुकाबलों में 474 रन बनाए थे।

– धवल पहली बार एकदिवसीय मुकाबलों में मैन ऑफ द सीरीज के अवार्ड से नवाजे गए। उन्हें गोल्डन बैट भी दिया गया।

– चैंपियंस ट्रॉफी खिताब जीतते ही महेंद्र सिंह धौनी पहले ऐसे कप्तान बन गए, जिन्होंने आइसीसी की सभी ट्रॉफी पर कब्जा जमाया। पहले आइसीसी टी-20, फिर विश्व कप और अब चैंपियंस ट्रॉफी।

– इंग्लैंड को हराते ही भारत पहली ऐसी टीम बनी, जिसने आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल मुकाबले पहले बल्लेबाजी करते हुए जीता।

– भारतीय टीम ने इंग्लैंड को आइसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में तीनों बार हरा दिया। इससे पहले 22 सितंबर, 2002 को कोलंबो में 8 विकेट से और 15 अक्टूबर, 2006 को जयपुर में 4 विकेट से हरा दिया।

– आर. अश्विन ने पहली बार किसी वनडे मुकाबले में 3 कैच लिए। फाइनल मुकाबले में उन्होंने पहले एलिस्टर कुक का कैच लिया, फिर इयोन मॉर्गन और रवि बोपारा का कैच लपका।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *