भारत के इस राज्य में बन रहा दुनिया का सबसे बड़ा सोलर प्लांट, US होगा पीछे

नई दिल्ली. केंद्र सरकार की सोलर पावर योजना तेजी से आगे बढ़ रही है। इसके तहत मध्‍य प्रदेश में दुनिया का सबसे बड़ा सोलर प्लांट बनने जा रहा है। यह प्लांट एमपी के रीवा जिले में लगाया जाएगा, जिसकी क्षमता 750 मेगावाट होगी। रीवा के बंडवर क्षेत्र में इसके लिए 1500 हेक्‍टेयर जमीन देखी गई है। इस प्लांट के लगने के बिजली उत्पादन बढ़ जाएगा, जिससे एमपी के कई गांवों को बिजली मिल सकेगी।
2017 से शुरू होगा उत्‍पादन
राज्‍य सरकार इस प्‍लांट पर तेजी से काम कर रही है। सरकार की पूरी कोशिश है कि प्‍लांट मार्च 2017 से उत्‍पादन शुरू कर दे। ये प्रोजेक्ट, रीवा अल्‍ट्रा मेगा सोलर प्रोजेक्‍ट सोलर एनर्जी कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया और एमपी ऊर्जा विकास निगम का ज्वाइंट वेंचर है। जिसमें दोनों की हिस्सेदारी 50-50 फीसदी है।
1 मेगावाट बिजली की लागत 7.6 करोड़
एक मेगावाट बिजली के उत्‍पादन के लिए 2 हेक्‍टेयर जमीन की जरूरत होती है। लागत की बात की जाए तो 1 मेगावाट सोलर एनर्जी उत्‍पादन लागत 7.6 करोड़ रुपए बैठती है। इस प्‍लांट के लिए सरकार ने बंजर पड़ी सरकारी जमीन उपलब्‍ध कराई है।