भारत ने जवाबी कार्रवाई करते हुए PAK की 2 चौकियां उड़ाईं, 7 सैनिक मार गिराए

नई दिल्ली. पाकिस्तान ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में सीजफायर वॉयलेशन किया। इसमें भारत के दो जवान शहीद हो गए। इसके बाद पाक आर्मी ने LoC पार कर शहीदों का शव के साथ बदसलूकी की और दो जवानों के सिर काट लिए। भारत ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान की 2 चौकियों को उड़ा दिया। इन्हीं चौकियों ने पाक सैनिकों को कवर फायरिंग दी थी। साथ ही भारतीय फोर्सेस ने 7 पाक सैनिकों को भी ढेर कर दिया।
सेना के पास अब ये तीन ऑप्शन…
1# पाकिस्तान को उसकी ही भाषा में जवाब दिया जाए। सेना आर्टिलरी, मिसाइल और लंबी रेंज के हथियारों से पाकिस्तानी पोस्ट पर जबरदस्त गोलाबारी कर सकती है।
2# एलओसी के नजदीक स्थित पाकिस्तानी पोस्ट पर सेना हमला बोले। इसमें सेना पाकिस्तानी इलाके में जाकर उनके पोस्ट पर रेड डाल उन्हें नुकसान पहुंचाती है।
3# भारत-पाकिस्तान की सेनाओं के बीच आपसी मसले सुलझाने के लिए हॉटलाइन की व्यवस्था है। यह इलाका चकन-दा-बाग हॉटलाइन के पास है। इसके जरिए सेना विरोध जताएगी। हालांकि यह महज औपचारिकता होती है।
पाक करतूत की ये 2 वजहें
– पाकिस्तान, बॉर्डर पर तनाव पैदा कर कश्मीर में गड़बड़ी को बढ़ावा देना चाहता है। टूरिस्ट मौसम के पहले ये घाटी में तनाव फैलाने की चाल हो सकती है।
– नरेंद्र मोदी इजरायल जा रहे हैं। संभवत: पाक समझ रहा है कि भारत इजरायली तरीकों को अपने यहां LoC पर इस्तेमाल कर सकता है। उसके पहले ये पाकिस्तान की बौखलाहट है।
पाक ने किया हमला
– पाकिस्तान आर्मी की 647 मुजाहिद बटालियन ने सोमवार सुबह 8 बजकर 30 मिनट पर पुंछ के कृष्णा घाटी सेक्टर में फायरिंग की। पाकिस्तान की ‘पिम्पल’ पोस्ट से भारत की ‘कृपाण’ पोस्ट को निशाना बना गया। मोर्टार और रॉकेट दागे गए। ऑटोमैटिक वेपंस से हैवी फायरिंग की गई।
– भारत की तरफ से भी जवाब दिया गया। इस दौरान दो पोस्ट के बीच भारतीय जवानों की एक टुकड़ी एलओसी पर लगी तारों की फेंसिंग पार कर लैंडमाइंस की चैकिंग के लिए आगे बढ़ी। पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) वहां पहले से घात लगाकर बैठी थी। उसकी फायरिंग में हमारे दो जवान शहीद हो गए। इसके बाद BAT ने शहीदों के शवों के साथ बर्बरता की। उनके सिर काट दिए गए।
– आर्मी के एक सीनियर अफसर ने बताया- “यह सोचा समझा हमला था। पाकिस्तान आर्मी की बीएटी टीम एलओसी पार कर भारतीय सीमा में करीब 250 मीटर तक घुस आई थी। ये काफी देर से हमले को अंजाम देने का इंतजार कर रहे थे। सोमवार सुबह पाक ने रॉकेट और मोर्टार से हमला किया। भारतीय पोस्ट पर तैनात जवानों को उलझाए रखा। इसके बाद उनका टारगेट 7 से 8 मेंबर वाली पेट्रोलिंग पार्टी थी, जो पोस्ट से बाहर चैकिंग के लिए आई थी।”
– पाक के हमले में 22 सिख इन्फैंट्री के नायब सूबेदार परमजीत सिंह और बीएसएफ की 200वीं बटालियन के हेड कॉन्स्टेबल प्रेम सागर शहीद हो गए। बीएसएफ के कॉन्स्टेबल राजेंद्र सिंह जख्मी हो गए। अब वे खतरे से बाहर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *