भारत 2022 तक अंतरिक्ष में भेजेगा अपना पहला मानव मिशन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 72वें स्वतंत्रता दिवस पर कहा कि साल 2022 तक ‘गगनयान’ के माध्यम से भारतीय अंतरिक्ष यात्री अंतरिक्ष में जाएंगे. भारत इस उपलब्धि को हासिल करने वाला दुनिया का चौथा देश होगा.

लाल किले से राष्ट्र को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, आज मेरा सौभाग्य है कि इस पावन अवसर पर मुझे देश को एक और खुशखबरी देने का अवसर मिला है. साल 2022, यानी आजादी के 75वें वर्ष में और संभव हुआ तो उससे पहले ही, भारत ‘गगनयान’ के जरिये अंतरिक्ष में तिरंगा लेकर जा रहा है.’ आजादी के 75 साल पूरे होने पर, वर्ष 2022 तक भारत का बेटा या बेटी अंतरिक्ष में जाएगी.

भारतीय वैज्ञानिकों ने लिया है संकल्प

मोदी ने कहा कि साल 2022 या उससे पहले ही, भारतीय वैज्ञानिकों ने मानवसहित गगनयान लेकर अंतरिक्ष में तिरंगे के साथ जाने का संकल्प लिया है. यदि संभव हुआ तो भारत इस उपलब्धि को हासिल करने वाला दुनिया का चौथा देश होगा. बता दें, चंद्रयान 1 भारत का पहला चंद्र अभियान था और इसरो ने इसे अक्तूबर 2008 में पेश किया था. मंगलयान भारत का मंगल अभियान था जो 2014 में शुरू हुआ था.