भोपाल गैस त्रासदी की आज 30वीं बरसी

भोपाल गैस त्रासदी की आज 30वीं बरसी है। यह विश्व की सबसे भीषण औद्योगिक त्रासदी थी। 1984 में दो और तीन दिसम्बर की रात कीटनाशक संयंत्र- यूनियन कार्बाइड से मिथाइल आइसोसाइनेट गैस रिसने से सैकड़ों लोग मारे गये थे

और कई जीवनभर के लिए अपाहिज हो गये थे। इस दुखद घटना की याद में आज भोपाल में कई कार्यक्रम आयोजित किए गये हैं। गैस त्रासदी के मृतकों को श्रद्धांजलि देने के लिए भोपाल के बरकातुल्‍ला भवन में आज सुबह सर्व धर्म प्रार्थना सभा का आयोजन किया जाएगा। गैस त्रासदी की पूर्व संध्‍या पर गैर सरकारी संगठनों ने गैस पीडि़तों के लिए न्‍याय की मांग को लेकर मशाल, जुलूस, प्रदर्शन और नुक्‍कड़ नाटकों का आयोजन किया। इन संगठनों ने अपनी मांगों को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी को एक पत्र भी लिखा है। गैस त्रासदी को 30 साल हो जाने के बाद भी पीडि़तों को कई समस्‍याओं का सामना करना पड़ रहा है।