मध्यप्रदेश में नवकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मध्यप्रदेश को नवकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में किये गये उत्कृष्ट कार्यों के लिए आज नई दिल्ली में पुरस्कृत किया। नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने यह पुरस्कार प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से विज्ञान भवन में रि-इन्वेस्ट-2015 कॉफ्रेंस में ग्रहण किया।

कार्यक्रम में केन्द्रीय ऊर्जा, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा राज्य मंत्री श्री पीयूष गोयल और केन्द्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण उपस्थित थे। ऊर्जा मंत्री श्री शुक्ल ने ऊर्जा के क्षेत्र में की गई उल्लेखनीय प्रगति का श्रेय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में किये गये अभिनव प्रयासों का ही फल बताया। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कृषि के क्षेत्र में 24X7 दस घंटे और रिहायशी इलाकों के लिए बेरोकटोक 24 घंटे बिजली उपलब्ध करवायी जा रही है। मध्यप्रदेश को नीमच में एशिया का सबसे बड़ा सौर संयंत्र (2×450 मेगावाट) स्थापित करने के लिए सम्मानित किया गया है। कान्फ्रेंस में मध्यप्रदेश के रीवा में विश्व के सबसे बड़े सौर संयंत्र (750 मेगावाट) स्थापित करने की आधारशिला रखने का भी उल्लेख किया गया। प्रदेश में पवन ऊर्जा के क्षेत्र में 450 मेगावाट के दो संयंत्र स्थापित करने का भी कार्य किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *