मध्‍य प्रदेश में हाल ही में हुई वर्षा और ओलावृष्टि से किसानों की समस्‍याएं और बढ़ गयी हैं।

मध्‍य प्रदेश में हाल ही में हुई वर्षा और ओलावृष्टि से किसानों की समस्‍याएं और बढ़ गयी हैं।राज्‍य के विभिन्‍न हिस्‍सों में शनिवार से वर्षा हो रही है।राज्‍य में समर्थन मूल्‍य पर गेहूं खरीदी की प्रक्रिया जारी है, वहीं बेमौसम बरसात ने किसानों और राज्‍य सरकार के लिए समस्‍या पैदा कर दी है। उपार्जन केन्‍द्रों में अपना गेहूं बेचने गये किसानों पर एक बार फिर प्रकृति की मार पड़ी है और उनका गेहूं गीला हो गया है। वहीं कई किसानों का गेहूं अभी भी खुले में बिखरा पड़ा है। दूसरी ओर सरकारी एजेन्सियों द्वारा खरीदा गया कई मीट्रिक टन गेहूं भी खुले में रखा है। राज्‍य में अब तक 11 लाख मीट्रिक टन से ज्‍यादा गेहूं खरीदा जा चुका है। प्रदेश में केन्‍द्र सरकार से गेहूं की गुणवत्‍ता सम्‍बन्‍धी छूट मिलने के बाद गेहूं खरीदी में तेजी आई है।